जागरण संवाददाता, भीरा (आजमगढ़) : प्रवासी मजदूरों के लिए गांव में रोजगार का रास्ता खुल गया है। मनरेगा के कार्य में उन्हें प्राथमिकता दी जा रही है। ठेकमा ब्लाक के महंगूपुर गांव में चल रहे पोखरा खोदाई के कार्य में 97 मजदूरों को लगाया गया, जिसमें 43 प्रवासी हैं।

खंड विकास अधिकारी पीसी राम ने बुधवार को गांव में चल रहे कार्य का निरीक्षण किया। बताया कि सरकार का आदेश है कि हर मजदूर को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध कराया जाए। मजदूरों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए शारीरिक दूरी का पालन भी किया जाना जरूरी है। उन्होंने निर्देश दिया कि प्रवासी अपनी जांच कराकर 14 दिन खुद को समाज से दूर रखें। अन्यथा सख्त कार्रवाई करते हुए मुकदमा पंजीकृत करवाया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस