जासं, तहबरपुर (आजमगढ़) : सोफीपुर-बसही अहरौला मार्ग पर आवागमन कर रहे हैं तो सावधानी से चलें। बीच रास्ते में स्थित सेमरी गांव के समीप शारदा सहायक खंड 32 पर बनी पुलिया (पंडिताइल की पुलिया) क्षतिग्रस्त हो गई है जो हादसे को दावत दे रही हैं। इससे आवागमन तक मुश्किल हो गया है लेकिन संबंधित महकमा के लोग ही नहीं जन प्रतिनिधियों तक का इस पर ध्यान नहीं जा पा रहा।

बताते चलें कि कई साल पूर्व सेमरी, कोटिया, मुस्लिम पट्टी, खलिया, करियावर, गोविदपुर, शैखवलिया व धनिया कूड़ी सहित दर्जनों गांवों को जोड़ने के लिए पुलिया का निर्माण कराया गया है, लेकिन कई वर्षों से जर्जर हालत में पड़ी पुलिया का निर्माण नहीं कराया गया। आए दिन लोग गिरकर चोटिल होते हैं। इससे वाहन सवार से लेकर पैदल यात्रियों तक को आवागमन में भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है। वाहनों के आते-जाते वक्त किसी भी समय दुर्घटना हो सकती है। स्थानीय नागरिकों का कहना है कि बार-बार अवगत कराने के बाद भी इसकी मरम्मती की ओर किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया। जबकि उक्त मार्ग पर पूरे दिन सैकड़ों वाहनों का आवागमन लगा रहता है। ग्रामीण व वाहन सवारों ने विभागीय उच्चाधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए पुलिया के मरम्मत की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस