-चढ़ा सियासी पारा ::::

- ब्लाक मुख्यालयों पर सुबह से ही रही गहमागहमी

-जीत-हार की गुणा-गणित में जुटे सियासी दिग्गज

जिपं अध्यक्ष का चुनाव संपन्न होने के बाद फिर बजा बिगुल

जागरण संवाददाता, आजमगढ़: जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव संपन्न होने के बाद ब्लाक प्रमुख चुनाव का बिगुल बज चुका है। आठ जुलाई को नामांकन पत्र दाखिला और 10 जुलाई को मतदान की तिथि घोषित होने के बाद ब्लाक मुख्यालयों पर नामांकन पत्र खरीदने वालों की भीड़ लगनी शुरू हो गई है। इसी के साथ एक बार पुन: सियासी पारा चढ़ गया है। इसी के साथ ही जीत-हार की भी रणनीति तैयार होने लगी है।

अमिलो प्रतिनिधि: पहले दिन सठियांव विकास खंड के लिए भावी प्रत्याशी सरिता सिंह निवासी ग्राम पंचायत मोहब्बतपुर के पति अरविद सिंह ने दो सेट पर्चा खरीदा है। हालांकि अभी तक दूसरे किसी दावेदार का नाम सामने नहीं आया है। आमने-सामने का मुकाबला होता नजर नहीं आ रहा है। जबकि सभी दलों का निशाना सठियांव ब्लाक पर ही हुआ करता था। अपने मान प्रतिष्ठा का सवाल बनाकर हर बार दो दलों के प्रत्याशियों में दिलचस्प मुकाबला हुआ करता था।

---------------

दूसरा प्रत्याशी आया तो होगा कड़ा मुकाबला

सठियांव ब्लाक की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत अमिलो के नगरपालिका परिषद मुबारकपुर में शामिल हो जाने के बाद अब 114 क्षेत्र पंचायत सदस्य बचे हैं। जबकि अमिलो में 15 क्षेत्र पंचायत सदस्य हुआ करते थे, जो नगरपालिका परिषद मुबारकपुर में शामिल हो गए हैं।ऐसे में यदि कोई दूसरा दावेदार सामने आता है तो लड़ाई टक्कर की हो सकती है।

------------------

अतरौलिया में नहीं पहुंचे एआरओ, इंतजार कर वापस हुए भावी उम्मीदवार

अतरौलिया: अतरौलिया ब्लाक में मंगलवार को एआरओ के न पहुंचने के कारण कोई भी उम्मीदवार शाम तक इंतजार करने के बाद भी नामांकन फार्म नहीं खरीद सका। इंतजार करने के बाद लोग वापस चले गए। बीडीओ एवं नोडल अधिकारी अतरौलिया विनोद कुमार बिद ने बताया कि अभी तक किसी भी एआरओ की नियुक्ति नहीं हो सकी है। पत्रावली जिलाधिकारी के यहां पहुंच चुकी है। कल ही एआरओ नामांकन फार्म लेकर ब्लाक पर पहुंचेंगे। अंतिम मतदाता सूची भी आज शाम तक ब्लाक पर आ जाएगी। जिसे भी लेना है वह ले सकते हैं।

Edited By: Jagran