आजमगढ़ : जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष ¨सह ने बताया है कि गत वर्ष में 16 संस्थाओं के 678 छात्र व छात्राओं द्वारा दोहरी छात्रवृत्ति का लाभ प्राप्त किया गया था। जांच के बाद अब तक लगभग 300 छात्र-छात्राओं द्वारा लगभग नौ लाख रुपये की रिकवरी की जा चुकी है।

जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने बताया कि अल्पसंख्यक (मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध एवं जैन) समुदाय के छात्र-छात्राओं के लिए भारत सरकार की वेबसाइट द्वारा प्री-मैट्रिक, पोस्ट-मैट्रिक एवं मेरिट कम-¨मस छात्रवृत्ति योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए समय सारिणी एवं पात्रता की शर्ते प्राप्त की जा सकती हैं। उन्होंने बताया कि योजनांतर्गत उन्हीं छात्र-छात्राओं द्वारा ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा जो पिछली कक्षा में 50 फीसद अंक प्राप्त किए हों। ऑनलाइन करने के बाद आवेदन पत्र को छात्र-छात्राओं द्वारा समस्त संलग्नकों सहित अपने मदरसे व विद्यालय में जमा कराना होगा। संस्था द्वारा आवेदन पत्र एवं अभिलेखों का सत्यापन करने के बाद ही अपने स्तर से ऑनलाइन अग्रसारित किया जाएगा। बताया कि किसी भी छात्र द्वारा दोहरी छात्रवृत्ति अर्थात (भारत सरकार व राज्य सरकार) में से किसी एक छात्रवृत्ति का आवेदन किया जाएगा। दोनों छात्रवृत्ति के लिए आवेदन नहीं किए जाएंगे। संस्था द्वारा केवल एक ही छात्रवृत्ति का ऑनलाइन आवेदन परीक्षणोपरांत अग्रसारित किया जाएगा। समस्त मदरसों, संस्थाओं व अभिभावकों को निर्देशित किया है कि छात्रवृत्ति योजनांतर्गत समय पर छात्र-छात्राओं से आवेदन कराना सुनिश्चित करें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप