आजमगढ़ : शासन से मिले निर्देश के बाद सक्रिय हुई बिजली विभाग की टीम ने छह दिन में 46 लाख रुपये की वसूली की वहीं दो लाख से ऊपर के 319 बकाएदार उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे गए। विद्युत विभाग की इस कार्रवाई से बकाएदारों में हड़कंप की स्थिति हुई है।

उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन की ओर से बिजली का बिल जमा न करने वाले बकायेदार उपभोक्ताओं के खिलाफ महाअभियान चलाकर कनेक्शन काटने व बिजली बिल वसूलने का निर्देश हुआ है। बिजली विभाग बड़े बकाएदारों को तीन श्रेणी में बांट कर कार्रवाई कर रही है। इस बाबत जिले में 15 टीमों का गठन किया गया है, जिसमें चार टीम शहरी क्षेत्र व 11 टीम ग्रामीण क्षेत्रों में लगाई गई हैं। शासन के निर्देश पर छह सितंबर से जिले में महाअभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है। टीम को संबंधित क्षेत्र के बकाएदारों को सूची सौंपी गई है। टीम टॉप टेन की सूची बनाकर घर-घर छापेमारी कर कार्रवाई कर रही है। छापेमारी के दौरान बिल का भुगतान करने वाले उपभोक्ताओं को छोड़ दिया जा रहा है। शासन द्वारा निर्देश है कि दस हजार से ऊपर वाले उपभोक्ताओं की बिजली काट दी जाए लेकिन बिजली विभाग द्वारा दस हजार के ऊपर वाले उपभोक्ताओं समय दिया गया है। छह दिन की कार्रवाई में 46 लाख रुपये राजस्व की वसूली की गई। जबकि भुगतान न करने वाले 319 बकाएदारों की बिजली काट दी गई। ''विभाग द्वारा पहले तीन लाख रुपये के ऊपर वाले बकाएदारों के खिलाफ अभियान चलाया गया। इस समय दो लाख से ऊपर वाले बकाएदारों पर कार्रवाई की जा रही है। इसके बाद एक लाख से ऊपर, फिर दस हजार से ऊपर के बकाएदारों पर अभियान चलाया जाएगा। जो भी बकाएदार उपभोक्ता बिल का भुगतान नहीं करेगा, उसका कनेक्शन काट दिया जाएगा।''

-चंद्रेश उपाध्याय, अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड प्रथम आजमगढ़।

Posted By: Jagran