जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : सगड़ी तहसील के अजमतगढ़ बाजार में संचालित एक विद्यालय की सीबीएसई बोर्ड से आठवीं तक की मान्यता है लेकिन यह विद्यालय इंटरमीडिएट तक की क्लास चला रहा है। यह मामला शुक्रवार को जिला विद्यालय निरीक्षक डा. वीके शर्मा के दरबार पहुंचा तो उन्होंने संबंधित पटल सहायक को जांच का निर्देश दिया। इस मामले में दो सदस्यीय टीम गठित कर तीन दिन के अंदर रिपोर्ट मांगी है। रिपोर्ट आने पर संबधित विद्यालय के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

आरोप है कि अजमतगढ़ बाजार में कई वर्षों से सीबीएसई बोर्ड आठ तक की मान्यता से चिल्ड्रेन पब्लिक स्कूल संचालित है। यहां बिना मान्यता के संस्था संचालकों द्वारा क्षेत्र के अभिभावकों को बरगलाकर कक्षा नौ से बारह तक की कक्षाओं का अवैध संचालन किया जा रहा है। यही नहीं अभिभावकों व छात्रों से अवैध रूप से वसूली भी की जाती है। यह विद्यालय भी ग्राम समाज की भूमि पर बना हुआ है। आरोप है कि विद्यालय प्रबंधक पर जीयनपुर कोतवाली में एफआइआर भी दर्ज है। यह शिकायत जब अजमतगढ़ बाजार निवासी जगरनाथ गुप्ता पुत्र स्व. राम नरायन गुप्ता ने की तो डीआईओएस तमतमा गए। उन्होंने तत्काल संबंधित पटल सहायक को बुलाया और विद्यालय के बारे में पूछताछ की। आरोप यह भी है कि कई बार कार्यालय में सूचना दिए जाने के बाद कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस पर डीआईओएस ने जीजीआईसी अजमतगढ़ की प्रधानाध्यापिका चंदा सिंह व जोकहरा के प्रधानाध्यापक एनपी सिंह की टीम गठित कर जांच करने का निर्देश दिया और कहा कि तीन दिन के भीतर पूरी प्रक्रिया की जांच कर बंद लिफाफे में उन्हें अवगत कराया जाए। बिना मान्यता के चल रहा कोई भी विद्यालय चलने नहीं दिया जाएगा। किसी भी कीमत पर जांच कराकर उसके संचालक व प्रबंधक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जांच रिपोर्ट आने के बाद चिल्ड्रेन पब्लिक स्कूल के प्रबंधक व संस्थापक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

डा. वीके शर्मा : जिला विद्यालय निरीक्षक

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप