जागरण संवाददाता, पवई (आजमगढ़) : पवई थाना क्षेत्र के बलईपुर गांव में गुरुवार की सुबह एक युवक को हमलावरों ने गोली मार दी। गोली लगने से घायल युवक की तहरीर पर पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। घटना की वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है।

बलई गांव निवासी राघवेंद्र सिंह (28) पुत्र नरेंद्र प्रताप सिंह ग्राम प्रधान सन्नी सिंह राजपूत के मित्र हैं। राघवेंद्र ने बताया कि शशांक सिंह नाम का एक युवक अपराधिक प्रवृत्ति का है। उसके खिलाफ अंबेडकर नगर जिले के जलालपुर समेत कई थानों में अपराधिक घटनाएं करने के कई केस दर्ज हैं। अपराधिक प्रवृत्ति का होने के चलते पवई थानाध्यक्ष संजय सिंह ने शशांक समेत उनके करीबी रहे आठ को पाबंद किया था। एसडीएम फूलपुर के यहां से सभी लोग जमानत कर बुधवार को घर आए थे। घर आने के बाद शशांक व उनके करीबियों को आशंका थी ग्राम प्रधान सन्नी सिंह व उनके करीबी राघवेंद्र के इशारे पर पुलिस ने निरोधात्मक कार्रवाई की गई थी। इसी आशंका में बुधवार की देर शाम उनमें कहासुनी भी हुई थी। राघवेंद्र ने कहा कि वह गुरुवार को दिन में लगभग 10.45 बजे खेत से होकर घर लौट रहे थे। घर से दो सौ मीटर पहले ही घात लगाए हमलावरों ने उन्हें गोली मार दी। गोली बाएं हाथ की हथेली पर लगने से वे घायल हो गए। गोली की आवाज सुनकर ग्रामीण दौड़े तो हमलावर भाग निकले। घायल युवक को स्वजनों ने अस्पताल ले जाकर प्राथमिक इलाज कराया। सूचना मिली तो फूलपुर सीओ रवि शंकर प्रसाद, पवई थानाध्यक्ष संजय कुमार व मित्तूपुर चौकी प्रभारी भी मौके पर पहुंच गए। पवई थानाध्यक्ष ने कहा कि घायल राघवेंद्र की तहरीर पर पुलिस ने गांव के ही निवासी शशांक सिंह, सत्यम सिंह, रणजीत सिंह, ज्वाला सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। फरार आरोपितों की तलाश की जा रही है। एसओ ने घटना का कारण पूर्व से चल रही अदावत बताया है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस