जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : अफगानी युवकों के पासपोर्ट प्रकरण में फूलपुर कोतवाली पुलिस ने निजामाबाद के एक जनसेवा केंद्र संचालक को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से लैपटाप, फिगर व आई स्कैनर, प्रिटर समेत अन्य उपकरण बरामद किया।

अफगानिस्तान के सलाम खेर शहर निवासी इबादतउल्ला उर्फ आबिद को वाराणसी पुलिस ने एक फरवरी को और उसकी निशानदेही पर कोलकाता में छिपे दूसरे अफगानी युवक करमतुल्ला को जिले की पुलिस ने दो फरवरी को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार अफगानी युवकों में करमतुल्ला ने फूलपुर क्षेत्र के पते पर फर्जी दस्तावेज के आधार पर पासपोर्ट बनवा लिया था, जबकि इबादतउल्ला उर्फ आबिद की भी पासपोर्ट आवेदन की पत्रावली जांच पूरी कर जिले से पासपोर्ट कार्यालय भेज दिया गया था। अफगानी युवकों के पासपोर्ट मामले की जानकारी जब उजागर हुई तो पुलिस अधिकारियों के होश उड़ गए थे। एसपी ग्रामीण एनपी सिंह ने बताया कि दोनों अफगानी युवकों का फर्जी दस्तावेज निजामाबाद कस्बे के एक जनसेवा केंद्र से बनवाया गया था। छानबीन में यह मामला उजागर होने पर फूलपुर कोतवाली के सब इंस्पेक्टर कमलाशंकर गिरी ने रविवार को जनसेवा केंद्र पर छापा मारकर संचालक को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जनसेवा केंद्र से दो लैपटाप, एक फिगर स्कैनर, एक आई स्कैनर, प्रिटर, लैपटाप चार्जर समेत अन्य उपकरण बरामद किया। पकड़ा गया संचालक मनोज पांडेय पुत्र स्व. श्रीकांत पांडेय ग्राम शेखपुरा, थाना निजामाबाद का निवासी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस