जागरण संवाददाता, बोगरियां (आजमगढ़) : तरवां थाना क्षेत्र के शाहपुर कानूनगो गांव में शुक्रवार की सुबह भूमि विवाद को लेकर घर आए पीएसी के जवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वहीं हमले में मृत पक्ष के जेल वार्डेन, सीआरपीएफ जवान समेत तीन लोग घायल हो गए। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने घटना की छानबीन शुरू कर दी। पुलिस ने एक आरोपित को हिरासत में ले लिया है जबकि अन्य आरोपित फरार बताए जा रहे हैं।

शाहपुर कानूनगो गांव निवासी 55 वर्षीय मुन्ना पांडेय पुत्र विभूति पांडेय का अपने पट्टीदार संजय पांडेय पुत्र रामनवल पांडेय के घर के बीच पड़ी खाली भूमि को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। मुन्ना पांडेय पक्ष के लोग उक्त विवादित भूमि पर शुक्रवार की सुबह लगभग नौ बजे मिट्टी पाट रहे थे। तभी दूसरे पक्ष के लोगों ने आकर प्रतिरोध किया। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी के बाद एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष पर लाठी डंडा व धारदार हथियार से हमला कर दिया। इस बीच हमलावर पक्ष की ओर से गोली भी चला दी गई। गोली लगने से 21 वर्षीय चंद्रमणी पांडेय उर्फ छोटू पुत्र मुन्ना पांडेय की मौत हो गई। मृत चंद्रमणी पांडेय पीएसी के जवान थे। वह छुट्टी पर गुरुवार को घर आए थे। वहीं हमले में मृत पीएसी जवान के पिता मुन्ना पांडेय, चाचा मंदिर पांडेय, बड़े भाई इंद्रसेन पांडेय भी घायल हो गए। सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों में मुन्ना पांडेय देवरिया जेल में जेल वार्डेन, मंदिर पांडेय जम्मू में सीआरपीएफ के जवान के पद पर हैं। वे दोनों लोग भी छुट्टी पर घर आए हुए थे। हत्या की खबर मिलते ही एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह, एसपी सिटी पंकज कुमार पांडेय पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने मुख्य हमलावर संजय पांडेय पुत्र रामनवल पांडेय को गिरफ्तार कर लिया। तरवां थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर ने बताया कि घायल मुन्ना पांडेय की तहरीर पर संजय पांडेय, पंकज पांडेय, मृत्युंजय पांडेय समेत छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शव को पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस