जासं, सरायमीर (आजमगढ़) : उमस भरी गर्मी व लगन के बीच खाद्य पदार्थों की बिक्री धड़ल्ले से होने लगती है। शादी-विवाह का दौर होने के कारण मिलावटखोर काफी सक्रिय हो गए हैं। इसका सीधा असर लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। वहीं खाद्य विभाग सब कुछ जानते हुए भी अनजान बना हुआ है। जानकारी के मुताबिक जनपद में ही सिथेटिक मिठाइयां तैयार होती है और लग्जरी वाहनों से दुकानों पर पहुंचा देते हैं। इसकी कीमत कम होने और लगन में बिक्री ज्यादा होने से दुकानदार इसका भरपूर फायदा उठाते हैं। दुकानों पर सजने वाली मिठाइयों को ग्राहक आसानी से पकड़ भी नहीं पाते। इससे उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। इसकी धरपकड़ करने के लिए खाद्य विभाग व स्वास्थ विभाग कभी कभार दिखावे के लिए कागजी कार्रवाई कर शांत हो जाते हैं। इससे मिलावटखोरों के हौसले बुलंद हैं। क्षेत्रीय लोगों ने जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मिलावट खोरी के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करने की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस