जागरण संवाददाता, आजमगढ़: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की महत्वाकांक्षी परियोजना पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के कार्य को और रफ्तार मिलेगी। यह परियोजना जल्द से जल्द पूर्ण होगी। मुख्य एक्सप्रेस-वे का कार्य अप्रैल तक शुरू हो जाएगा। एनटीपीसी से फ्लाई ऐश (राख) उठाने के लिए अब 24 घंटे की अनुमति मिल गई है, जिससे सड़क के निर्माण में और तेजी आएगी। यह बात अपर मुख्य सचिव गृह व मुख्य कार्यपालक अधिकारी यूपीडा अवनीश कुमार अवस्थी ने शनिवार को कही।

अपर मुख्य सचिव गृह ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माणाधीन ब्रिज एवं फ्लाईओवर का स्थलीय निरीक्षण किया। यूपीडा के अधिकारियों को सड़क के निर्माण कार्याें को समय से पूर्ण करने के निर्देश दिए। किशुनदासपुर स्थित कैंप कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक कर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के पैकेज पांच व छह की समीक्षा की। अवनीश ने कहा कि पैकेज पांच व छह में सड़क के निर्माण में मिट्टी का समाधान कर लिया गया है। अब मिट्टी की कहीं कोई समस्या नहीं है। केवल कांट्रैक्टर्स को मिट्टी का कार्य करना है, जिसके लिए उन्हें निर्देश दिए गए हैं।

समीक्षा बैठक में कमिश्नर विजय विश्वास पंत, डीआइजी सुभाष चंद्र दुबे, डीएम राजेश कुमार, एसपी सुधीर कुमार सिंह, एडीएम एफआर गुरु प्रसाद गुप्ता, यूपीडा के संबंधित अधिकारी एवं कार्यदायी संस्था पीएनसी इंफ्रोटेक लिमिटेड के अधिकारी मौजूद रहे।

------

स्लैब के निर्माण में बेहतर सीमेंट के प्रयोग के निर्देश

अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। स्लैब की ढलाई की जा चुकी है। आगे स्लैब के निर्माण में बेहतर सीमेंट लगाने के लिए कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिए । सभी अधिकारी पूर्वांचल एक्सप्रेस - वे के निर्माण कार्य में दिन रात लगे हैं।

-------

पुलिस चौकी व पीआरबी वैन खड़ा करने को चिह्नित करें स्थान

अपर मुख्य सचिव गृह ने एसपी को निर्देश दिए कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे चालू होने के बाद जहां-जहां पुलिस चौकी की स्थापना एवं पीआरबी वैन 112 को खड़ा किया जाना है, उसके लिए जगह का चिंह्नाकन कर लें, जिससे ट्रैफिक कंट्रोल का संचालन ठीक प्रकार से हो सके।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप