जागरण टीम, आजमगढ़ : विजयदशमी के दूसरे दिन भी शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में मां के जयकारे लगते रहेा। मौका था प्रतिमा विसर्जन शोभायात्रा का। अबीर-गुलाल उड़ाते व डीजी की धुन पर थिरकते युवा साथ में चल रहे थे।

रौनापार: जीयनपुर बाजार में हवन-पूजन के बाद मां दुर्गा की प्रतिमाओं को ट्रैक्टर ट्राली, पिकअप पर रखकर नगर भ्रमण कराया गया। इस दौरान जीयनपुर चौक पर डीजे की धुन पर काफी देर तक युवा थिरकते रहे।इसे लेकर पुलिस से हल्की नोकझोंक भी हुई।

मां की दुर्गा की प्रतिमा रजादेपुर, नरईपुर, लाटघाट होते हुए दोहरीघाट स्थित सरयू नदी के तट के किनारे चिह्नित स्थान पर विसर्जित किया गया। मां दुर्गा की प्रतिमा जिधर से गुजरती उधर देखने वालों का तांता लग जा रहा था।

पवई : बागबहार, रामापुर, मिल्कीपुर, सलारपुर, मितूपुर, भुलेसरा, गद्दोपुर आदि स्थानों पर स्थापित प्रतिमाओं को गाजे-बाजे के साथ पहाड़पुर गांव स्थित मंजूषा नदी के किनारे पानी भरे गड्ढे में विसर्जित किया गया। मार्टीनगंज : बधवा महादेव मंदिर के बगल के पोखरे में बरदह और दीदारगंज थाना क्षेत्र की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया।दीदारगंज: दीदारगंज चौक, पल्थी बाजार, शेखवलिया, हुब्बीगंज, डीहपुर, मीरअहमदपुर, पुष्पनगर, फुलेश, लारपुर

आदि जगहों पर स्थापित दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन गांवों के पोखरे में किया गया।

Edited By: Jagran