-सीएचसी में ओपीडी की जगह अब फ्लू क्लीनिक

-इलाज के लिए परेशान ग्रामीणों को मिली राहत

-हर दिन 60-70 मरीज हो रहे लाभान्वित

जागरण संवाददाता, जहानागंज (आजमगढ़) : आप सर्दी, जुकाम, खांसी और बुखार से परेशान हैं और कोई डॉक्टर छूने को तैयार नहीं है तो तुरंत कोल्हूखोर का रास्ता पकड़िए।यहां आसानी से डॉक्टर मिलेंगे और साथ में दवा भी।

जी हां,कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोल्हूखोर में ओपीडी तो पूरी तरह बंद है, लेकिन मरीजों की सुविधा के लिए उसकी जगह फ्लू क्लीनिक की शुरुआत की गई है। ओपीडी बंद होने के बाद मरीजों को प्राइवेट डॉक्टरों की शरण में जाने के लिए विवश होना पड़ रहा था। इस समस्या को महसूस करते हुए अस्पताल प्रशासन ने फ्लू क्लीनिक शुरू किया है। इससे उन मरीजों को राहत मिल रही है जो मौसमी बीमारियों के शिकार हैं।

सीएचसी प्रभारी डॉ. धनंजय पांडेय ने बताया सर्दी, खांसी, जुकाम से पीड़ित मरीजों के इलाज के लिए इस क्लीनिक की व्यवस्था कराई गई है। अस्पताल से दवाइयां भी उपलब्ध कराई जा रही हैं, जो लोग नहीं पहुंच पा रहे हैं उनके लिए आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से दवाएं वितरित कराई जा रही हैं। अस्पताल में 60 से 70 मरीज आ रहे हैं। यहां पर कोविड की जांच के लिए एंटीजन और आरटीपीसीआर की सुविधा है। कोरोना का तनिक भी लक्षण दिखे तो तुरंत जांच करा लें और एहतियात बरतें। इससे संक्रमण का चेन तोड़ने में मदद मिलेगी। कुछ लोग डर वश जांच नहीं करा रहे हैं, लेकिन यह नहीं समझ रहे हैं कि ऐसी सोच उनके और उनके परिवार के साथ साथ अन्य लोगों को मुसीबत में डाल सकती है।

Edited By: Jagran