जागरण संवाददाता, आजमगढ़: राज्यपाल आनंदीबेन पटेल नवंबर के प्रथम सप्ताह में जिले में आएंगी। उनके एक से सात नवंबर के बीच संभावित आगमन को लेकर प्रशासनिक स्तर पर गतिविधि तेज हो गई है। राज्यपाल के आगमन संबंधी अभी कोई प्रोटोकाल नहीं आया है लेकिन शासन स्तर से दी गई सूचना के बाद संबंधित विभागों के अधिकारियों को व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिलाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि राज्यपाल के एक नवंबर से सात नवंबर के बीच जनपद आगमन के संबंध में सूचना दी गई है। इसलिए सर्किट हाउस से लेकर कलेक्ट्रेट तक की सड़क को दुरुस्त कराने के साथ सर्किट हाउस और कलेक्ट्रेट को और व्यवस्थित करने के संबंध में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। उधर, इस बात की संभावना जताई जा रही कि राज्यपाल कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा करेंगी। साथ ही सामाजिक कार्यों से जुड़ी महिलाओं के साथ संवाद भी कर सकती हैं। जिले के विकास कार्यों की समीक्षा की तैयारी की जिम्मेदारी सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला को दी गई हैं। जबकि अन्य प्रशासनिक व्यवस्था की जिम्मेदारी अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेंद्र सिंह को दी गई है।

Edited By: Jagran