आजमगढ़ : बिजली के कारण जल संकट से जूझ रहे आजमगढ़ के किसानों के लिए खुशखबरी है। अब विद्युत आपूर्ति के अभाव में ¨सचाई प्रभावित नहीं होगी। जिले में अब सौर ऊर्जा चालित नलकूप लगाए जाएंगे। विभाग द्वारा परियोजना तैयार कर शासन को भेज दी गई है। मंजूरी मिलते ही विभाग सौर ऊर्जा से संचालित होने वाले नलकूपों की स्थापना करेगा।

आमतौर पर जगह-जगह लगे राजकीय नलकूप बिजली की वजह से महीनों तक बंद रहते हैं। इतना ही नहीं राजकीय नलकूपों के संचालन में लो-वोल्टेज एवं ट्रि¨पग की समस्या भी आम है। जिससे किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अब इसको लेकर सरकार बेहद संजीदा है। इसे गंभीरता से लेते हुए नलकूप विभाग ने सौर ऊर्जा संचालित 50 नलकूपों की स्थापना के लिए परियोजना तैयार किया है। प्रोजेक्ट को शासन से हरी झंडी मिलते ही इस पर कार्य शुरू हो जाएगा। ''सौर ऊर्जा से संचालित करने के लिए 50 नए नलकूपों की परियोजना बनाकर शासन को भेज दिया गया है। मंजूरी मिलते ही जिले में सौर ऊर्जा से संचालित होने वाले नलकूपों की स्थापना की जाएगी। इससे लो-वोल्टेज एवं ट्रि¨पग की समस्या खत्म होगी। इससे किसानों को ¨सचाई करने में काफी सहूलियत मिलेगी।''

-राकेश कुमार मल्ल, अधिशासी अभियंता, राजकीय नलकूप।

Posted By: Jagran