आजमगढ़ : जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में मिशन इंद्रधनुष अभियान को सफल बनाने के लिए बुधवार को एमओआइसी के साथ बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि मिशन इंद्रधनुष अभियान का प्रथम चरण 22 अक्टूबर से एक नवंबर तक चलाया जाएगा।

कहा कि मिशन इंद्रधनुष अभियान के अंतर्गत टीकाकरण के लिए 0-02 वर्ष तक के कुल बच्चों की संख्या 1,32,971 तथा गर्भवती महिलाओं की संख्या 1,52,839 निर्धारित किया गया है। मिशन इंद्रधुनष अभियान की मानीट¨रग के लिए 381 एएनएम, आठ एलएचबी, 3,655 आशा कार्यकर्ता, 154 पर्यवेक्षक, 88 सेक्टर इंचार्ज व पांच जोनल इंचार्ज नियुक्त किए गए हैं। अभियान में कुल सेशनों की संख्या 3,107 जिसमें ग्रामीण के लिए 2,978 तथा शहरी क्षेत्र हेतु 129 है। उन्होंने समस्त एमओआइसी को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रत्येक दशा में हर पीएचसी व सीएचसी पर अभियान की शुरूआत से पहले वैक्सीन की उपलब्धता कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि मिशन इंद्रधनुष अभियान के लिए संबंधित कर्मचारियों की ड्यूटी सेशन वार लगाएं तथा उसकी सूची तैयार करें। उन्होंने समस्त एमओआइसी, डीपीएम, बीपीएम मिशन इंद्रधनुष को सफल बनाने के लिए अपने कार्य को पूरी ईमानदारी तथा लगनशील होकर करें। इस अवसर पर सीएमओ रवींद्र कुमार, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. संजय, डा. विनय यादव, डा. परवेज अख्तर, समस्त संबंधित एमओआइसी, डीपीएम, बीपीएम उपस्थित थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस