आजमगढ़, जागरण संवाददाता: गंभीरपुर थाना के नगवा गांव निवासी अब्दुल्लाह करीब 12 वर्ष से खुदकास्ता (सरायमीर दीदारगंज मार्ग) पर मकान बनवा कर रहते हैं। परिवार के भरण-पोषण के सिलसिले में वे मुंबई में रहते हैं। उनका परिवार यहीं रहता है। उनके बड़े पुत्र अब्दुर्रहमान विदेश से अभी पिछले शुक्रवार को आए हैं। अब्दुल्लाह के स्वजन सोमवार की रात खाना खाकर सो गए।

देर रात किसी समय बगल के घर की छत से अब्दुल्लाह की छत पर चढ़ कर सीढ़ी के रास्ते चोर घर के अंदर उतर गए। घर में सोए हुए स्वजन के कमरों की कुंडी को बाहर से बंद कर दिया। कमरे की आलमारी, बक्सा को तोड़कर उसमें रखा लगभग सात लाख का आभूषण समेट कर फरार हो गए।

मोहल्ले के अन्य घरों को भी बनाया निशाना

मोहल्ले के ही शाहआलम के घर में भी सोमवार की रात करीब 1.30 बजे चोर घुस गए। स्वजन के जागने से भाग गए। शाहआलम के घर का निर्माण कार्य चल रहा है। जिसके लिए बांस बल्ली से पाइट बांधी हुई है। उसी पाइट के सहारे से ऊपर चढ़कर उनके घर में प्रवेश कर गए। घर में एक बच्ची जग गई। उसने आवाज लगाई और घर का बल्ब जला दिया तो चोर भाग गए।

पड़ोस के एक और घर में गए, जहां ऊपर से आंगन की जाली से नीचे देखा और फिर बगल में अब्दुल्लाह के घर में घुसकर लाखों का आभूषण चोरी करने में कामयाब हो गए।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट