मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जासं, आजमगढ़: प्रधानमंत्री आवास (शहरी) योजना के अंतर्गत लोगों को आवास दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला फर्जी बाबू मंगलवार को विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों के चंगुल में फंस गया। उसे जिला नोडल अधिकारी डूडा/ एडीएम वित्त एवं राजस्व गुरु प्रसाद गुप्ता के समक्ष प्रस्तुत किया गया तो उन्होंने पीओ डूडा को एफआइआर दर्ज कराने के निर्देश दिए।

पीओ डूडा डा. महेंद्र प्रसाद ने बताया कि काफी दिनों से शिकायत मिल रही थी कि नगर पंचायत जीयनपुर में एक व्यक्ति फर्जी बाबू बनकर लोगों को प्रधानमंत्री आवास और कांशीराम आवास दिलाने का आश्वासन देकर आवेदन पत्र भरता है और धनउगाही करता है। बताया कि तभी से उसकी तलाश थी। इसी बीच पता चला कि शहर के हाफिजपुर निवासी वकील अहमद पुत्र सुल्तान अहमद अपने गांव आ रहा है। इसी बीच आवासों का सत्यापन कर रही कार्यदायी संस्था के कर्मचारियों ने उसे दबोच लिया और विकास भवन स्थित कार्यालय लाए। उसके बैग से लगभग एक दर्जन नोटरी बयानहल्फी, 100 आधारकार्ड और लगभग 25 बैंकपासबुक की छायाप्रति के अलावा एसबीआई के एक अधिकारी की आईडी भी मिली। उन्होंने बताया कि पकडा़ गया व्यक्ति राशनकार्ड बनवाने का भी कार्य करता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप