जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह ने निकायवार वसूली की समीक्षा की। लक्ष्य के सापेक्ष वसूली न होने पर दो नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारियों को चेतावनी निर्गत किए जाने का निर्देश दिया। जबकि इस वर्ष के माह अक्टूबर की लक्ष्य के सापेक्ष वसूली न पाए जाने एक सप्ताह के अंदर अपेक्षित प्रगति लाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने पाया कि विगत वर्ष अक्टूबर माह में नगर पंचायत मेंहनगर द्वारा 9.96 लाख रुपये और इस वर्ष अक्टूबर में 5.79 लाख रुपये, निजामाबाद द्वारा विगत वर्ष अक्टूबर तक 5.72 लाख रुपये और इस वर्ष अक्टूबर तक 4.17 लाख रुपये की वसूली की गई है। इससे स्पष्ट होता है कि इन अधिशासी अधिकारियों द्वारा अपने नैतिक कार्यों में चूक की जा रही है। इसी प्रकार शासन द्वारा माह अक्टूबर के निर्धारित लक्ष्य में नगर पालिका परिषद आजमगढ़ में निर्धारित लक्ष्य 28.18 के सापेक्ष 26.64 लाख रुपये, मुबारकपुर में 10.52 के सापेक्ष 9.96 लाख रुपये, नगर पंचायत मेंहनगर में 2.66 लाख रुपये के सापेक्ष 0.48 हजार रुपये, निजामाबाद में 1.47 के लाख रुपये के सापेक्ष 0.24 हजार रुपये, अजमतगढ़ में 2.71 लाख रुपये की सापेक्ष 0.56 हजार रुपये, जीयनपुर में 3.09 के सापेक्ष 2.61 लाख रुपये, फूलपुर में 1.63 के सापेक्ष 1.10 लाख रुपये और नगर पंचायत महराजगंज में निर्धारित लक्ष्य 0.60 हजार रुपये के सापेक्ष 0.52 हजार रुपये की वसूली की गई। इन अधिशासी अधिकारियों को मानक के अनुसार वसूली न किए जाने के लिए चेतावनी के बाद भी वसूली में कोई प्रगति नहीं है। निर्देशित किया गया कि प्रत्येक सप्ताह की होने वाली बैठक में साप्ताहिक वसूली का विवरण प्रस्तुत करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस