जासं, चक्रपानपुर (आजमगढ़) : नरेहथा गांव में स्वास्थ्य टीम के डोर टू डोर सर्वे का काम सोमवार को पूरा हो गया। डॉ. स्वप्निल सिंह, डॉ. कुशल नंदन, डॉ. शुभम के नेतृत्व में बनाई गई तीन टीमों ने सर्वे कर लगभग 370 परिवार के 2100 लोगों का डाटा तैयार किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोल्हूखोर जहानागंज के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. धनंजय पांडेय ने बताया कि अभी तक के सर्वे में सर्दी, जुकाम व बुखार से पीड़ित लगभग 25 लोगों की पहचान की गई है। बताया कि सर्वे का पूरा कार्य डब्ल्यूएचओ (विश्व स्वास्थ्य संगठन) की देखरेख व गाइडलाइन के अनुसार किया गया है। गांव की पूरी आबादी के बच्चे युवा तथा बुजुर्गों की कंपाइल रिपोर्ट तैयार करने के बाद रिपोर्ट डब्ल्यूएचओ को भेजी जाएगी। उसकी सहमति से एक से दो दिन में संदिग्धों का सैंपल लेकर जांच को भेजा जाएगा। सर्वे टीम में चिकित्सकों के साथ आशा संगिनी गीता यादव, आशा कार्यकर्ता राजरानी मौर्य, अहिल्या पांडेय, बबली यादव, राधिका, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सुनीता सिंह व संगीता चौहान सहित आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस