जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : पारिवारिक विवाद के चलते जिला कारागार में निरुद्ध चल रहे सफाईकर्मी को जिला पंचायत राज अधिकारी श्रीकांत दर्वे ने निलंबित कर दिया है। पूरे मामले की जांच के लिए एडीओ पंचायत मोहम्मदपुर को जांच अधिकारी नामित किया गया है।

सफाईकर्मी अमरनाथ राम मेंहनगर विकास खंड के ग्राम पंचायत बछवल में तैनात था। बीते एक सितंबर को पारिवारिक विवाद के मामले में उसे जेल में निरुद्ध किया गया है। इसकी जानकारी एडीओ पंचायत मेंहनगर ने जिला पंचायत राज अधिकारी को दी थी जिस पर जिला पंचायत राज अधिकारी ने अमरनाथ को कर्मचारी आचरण नियमावली का उल्लंघन किया जाने के प्रति प्रथम ²ष्टया दोषी पाया और तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन की अवधि में अमरनाथ को निहित प्रावधानों के अनुसार जीवन निर्वाह भत्ता, अर्धऔसत वेतन पर देय अवकाश वेतन के बराबर होगा। इस धनराशि पर देय महंगाई भत्ता भी देय होगा। निलंबन को प्राप्त वेतन के आधार पर अन्य प्रतिकर भत्ते भी निलंबन काल में इस शर्त पर देय होंगे कि संबंधित कर्मचारी द्वारा उन मदों में वास्तव में व्यय किया जा रहा हो, जिसके ऐसे प्रतिकर भत्ते अनुमन्य हैं। इस मामले में जांच अधिकारी सहायक विकास अधिकारी पंचायत मोहम्मदपुर को नामित किया गया है। वह पूरे मामले की तीन सप्ताह के अंदर जांच कर आरोप पत्र गठित कर प्रस्तुत करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस