-आस्था:::

-मंदिरों में घंट-घड़ियाल की ध्वनि से गुंजायमान हुआ वातावरण

-नारियल-चुनरी व फूल-माला के साथ फलाहार की बिक्री तेज

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : शारदीय नवरात्र में पूरा जनपद देवी आराधना में लीन सा हो गया है। सप्तमी पर कालरात्रि की स्तुति को मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ गई। सुबह से ही हर कोई अपने हिसाब से पूजा-अर्चना कर रहा था। मंदिरों में घंट-घड़ियाल की ध्वनि से पूरा वातावरण गुंजायमान हो उठा तो घर-घर में मां दुर्गा की आरती से आसपास का वातावरण भी भक्तिमय हो गया।

घरों में स्थापित कलश के सामने कोई दुर्गा सप्तशती का पाठ कर रहा है तो कहीं दुर्गा चालीसा का पाठ हो रहा है।

शहर के मुख्य चौक स्थित सिद्ध स्थल दक्षिणमुखी देवी मंदिर, कोलघाट गांव के रमायन मार्केट स्थित दुर्गा शिव साई मंदिर, बड़ादेव, रैदोपुर स्थित दुर्गा मंदिर, पल्हना क्षेत्र के पाल्हमेश्वरी धाम, निजामाबाद क्षेत्र के शीतला माता मंदिर पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। भक्तों ने कालरात्रि के स्वरूप की पूजा की।

उधर नवरात्र की अष्टमी तिथि में विध्याचल और चौकिया धाम के दर्शन करने वालों की दोपहर बाद से रवानगी शुरू हो गई। रोडवेज पर जौनपुर की ओर जाने वाली बसों में सीट मिलना मुश्किल था। व्रत पर्व को देखते हुए सड़क के किनारे भी नारियल-चुनरी और फूल-माला के साथ फलाहार की बिक्री तेज हो गई। चाय-पान के दुकानदार भी साफ-सफाई का पूरा ध्यान दे रहे है।

Edited By: Jagran