जागरण संवाददाता, आजमगढ़: सुकन्या समृद्धि योजना से बेटियों का भविष्य समृद्ध होगा। खाता खोलने के लिए बेटी का जन्म प्रमाण पत्र और माता या पिता का आधार कार्ड, पैन कार्ड की स्वप्रमाणित छाया प्रति देनी होगी। बेटी की उम्र 10 वर्ष तक होनी चाहिए। जन्म प्रमाण पत्र के लिए अस्पताल से जारी प्रमाण पत्र, ग्राम प्रधान से जारी प्रमाण पत्र, स्कूल से जारी पहचान पत्र से खाता खोला जा सकता है। यह खाता 250 रुपये से खोला जा सकता है। यह जानकारी प्रवर डाक अधीक्षक योगेंद्र मौर्य ने मंगलवार को 'दैनिक जागरण' के 'प्रश्न पहर' में लोगों के सवालों के जवाब में दी।

सवाल : मुझे आइपीपीबी खाता खोलना हैं, इसमें क्या-क्या अभिलेख लगेगा। खाता कहां खुल सकता है?

जवाब : खाता मात्र 10 रुपये में खोला जा सकता है। केवल आधार कार्ड की संख्या से किसी भी ग्रामीण या शहरी डाकघर में जाकर फिगर प्रिट से खाता खोला जा सकता है। खाता खोलते समय क्यूआर कोड दिया जाता है। समय-समय पर कैंप लगाकर भी खाता खोला जा रहा है।

सवाल : मेरी एक बेटी का सुकन्या खाता चल रहा है। इसके बाद मेरी दो जुड़वां बेटियां हैं तो क्या इनका भी योजना का खाता खोला जा सकता है?

जवाब : हां, एक बेटी के बाद दो जुड़वां बेटियों का भी खाता खोला जा सकता है।

सवाल : डाक जीवन बीमा व ग्रामीण डाक जीवन बीमा की अधिकतम सीमा क्या है?

जवाब : डाक जीवन बीमा की अधिकतम सीमा 50 लाख रुपये और ग्रामीण डाक बीमा की अधिकतम सीमा 10 लाख रुपये है।

सवाल : मेरे बेटे की उम्र 10 वर्ष है, क्या उसका पीपीएफ खाता खोला जा सकता है?

जवाब : हां, यह खाता संरक्षक की तरफ से खोला जाएगा।

सवाल : क्या इस समय गंगा जल डाकघर से प्राप्त हो सकता है?

जवाब : अधिकृत डाकघरों में गंगोत्री से प्राप्त गंगा जल 250 एमएल 30 रुपये में उपलब्ध है।

सवाल : डाकघर में पासपोर्ट सेवा उपलब्ध है। इस सेवा के लिए क्या करना होगा?

जवाब : अधिकृत प्रधान डाकघर में आजमगढ़ व मऊ में पासपोर्ट की सेवा उपलब्ध है। इसके लिए कोई भी व्यक्ति स्वयं अपने मोबाइल या किसी नजदीकी जनसेवा केंद्र से आनलाइन समय बुक कराकर सूचना पत्र के साथ निर्धारित तिथि पर संबंधित पासपोर्ट सेवा केंद्र पर उपस्थित होकर अपना पासपोर्ट बनवा सकते हैं।

इन्होंने पूछे सवाल:::

-विनय कुमार गंभीरवन, रामबचन नरेहथा, शिवमूरत मेंहनगर, रामअचल सिंहपुर, जगदीश प्रसाद चक्रपानपुर, उमेश जलालपुर, राजेश बछवल, अखिलेश रसूलपुर, रामबचन राय पटवध कौतुक, आरसी यादव टीकापुर तहबरपुर, सत्येंद्र दीक्षित मेंहनगर, हरेंद्र दिलौरी रानी की सराय, अभय यादव नंदावं।

Edited By: Jagran