-जघन्य :::

- कारण बताने की स्थित में कोई नहीं, पुलिस घटना की वजह तलाशने में जुटी

-तरवां क्षेत्र के पित्थौरपुर में वारदात से मचा हड़कंप

-फोरेंसिक टीम और श्वान दल के साथ एसपी भी पहुंचे

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : तरवां थाना क्षेत्र के पित्थौरपुर गांव में रविवार की रात अज्ञात बदमाशों ने सोते समय दंपती की धारदार हथियार से हत्या कर दी। घटना की जानकारी सोमवार की सुबह हुई तो गांव में हड़कंप मच गया। गांव के राम नगीना (55) चकबंदी विभाग के लेखपाल थे। रविवार की रात वह घर गांव से बाहर अर्ध निर्मित मकान में मच्छरदानी लगाकर सो रहे थे। साथ में बगल की चारपाई पर उनकी पत्नी मंशा देवी (52) भी थीं। घटना का कारण बताने की स्थित में कोई नहीं था।

सूचना मिलने पर एसपी अनुराग आर्य फोरेंसिक टीम और श्वान दल के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस टीम घटना की वजह तलाशने में जुटी हुई थी। रात में हत्या कब हुई और घटना को किसने अंजाम दिया, इसकी भनक किसी को नहीं लग पाई।

एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि सुबह सूचना मिली कि पति-पत्नी के सिर और गले पर धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी गई है। फिलहाल लूटपाट की बात सामने नहीं आई है। स्वजन से भी बातचीत में कोई कारण सामने नहीं आया है। पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है। मौके से एक मोबाइल मिला है, जिसे कब्जे में ले लिया गया है।

श्वान दल ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच शुरू की, तो श्वान गांव के बगल में होलपुर ग्राम सभा की ओर जाकर कुछ ही दूर पर रुक गया। फिर दोबारा प्रयास किया गया तो वह आसपास घूमकर रुक गया।

राम नगीना मऊ जिले के मोहम्दाबाद तहसील के रानीपुर ब्लाक के सरौदा गांव के लेखपाल और तीन भाइयों में सबसे बड़े थे। डीआइजी अखिलेश कुमार, एसपी अनुराग आर्य, एडीएम प्रशासन अनिल कुमार, एसडीएम मेंहनगर प्रेमचंद, तरवां थाना प्रभारी संजय कुमार के अलावा मेहनाजपुर, जहानागंज, मेंहनगर थानों की पुलिस फोर्स भी मौके पर पहुंच गई थी।

Edited By: Jagran