- निजामाबाद के चक नोनिया गांव में गिरी कच्ची दीवार

- ग्रामीण मशक्कत के बावजूद कुंती को बचाया नहीं सके

जागरण संवाददाता निजामाबाद (आजमगढ़) : दो दिनों से लगातार हो रही चहुंओर बारिश जानलेवा साबित होने लगी है। निजामाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम सभा रानीपुर के चक नोनिया गांव में गुरुवार को दोपहर बाद तीन बजे कच्ची दीवार गिरी तो उसके मलबे में दंपती दब गया। पास-पड़ोस के लोग जब तक उन्हें निकालते महिला की मौत हो चुकी थी। उसके पति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

60 वर्षीय कुंती गोंड़ पत्नी सरजू कच्चे मकान में पति के साथ रहती थीं। दो दिनों से बारिश के कारण उनका मकान कमजोर हो चुका था। बुजुर्ग को दंपती को इसका तनिक एहसास नहीं था। बारिश के दौरान कच्ची दीवार भरभरा कर गिर गई। हादसे के बाद हुई तेज आवाज सुनकर पास-पड़ोस के लोग भाग कर पहुंचे तो कुंती उनके पति सरजू मलबे के नीचे दबे थे। मलबे को आनन-फानन में हटाया गया तो कुंती की मृत्यु हो चुकी थी। ग्रामीणों ने सरजू गौड़ का स्थानीय अस्पताल में इलाज कराया। ग्रामीणों का कहना था कि गरीब परिवार को आज तक आवास की सुविधा नहीं मिली पाई। किसी तरह जोड़-तोड़ कर अपने रहने के लिए कच्चा घर बनाया था। वह भी सिलसिलेवार बारिश में जमींदोज हो गया। आज वो भी पत्नी के साथ बेघर कर गया। सूचना पाकर तहसीलदार शैलेंद्र सिंह ने राजस्व टीम को मौके पर भेजा।

Edited By: Jagran