जागरण संवाददाता, आजमगढ़: पुलिस लाइन के सभागार में शनिवार को महिला उत्पीड़न के रोकथाम एवं पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाए जाने और आवेदक की सुगमता को देखते हुए महिला जनसुनवाई का आयोजन किया गया। कुल आठ शिकायतें प्राप्त हुईं, जो घरेलू हिसा, बच्चों व श्रमिक पंजीकरण से संबंधित थीं।

उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य संगीता तिवारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिए कि संबंधित विभाग के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर प्रकरणों का भेजना सुनिश्चित करें, जिससे जल्द से जल्द निस्तारण किया जा सके। जीयनपुर थाना क्षेत्र निवासी दिनेश यादव अपनी बहन के दहेज उत्पीड़न एवं बच्चे के लेन-देन के संबंध में आवेदन दिया। सदस्य ने दोनों पक्षों से फोन पर वार्ता करते हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिए कि महिला थानाध्यक्ष के माध्यम से प्रकरण का निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि कोई भी पीड़ित महिला राज्य महिला आयोग के वाट्सएप नंबर-6306511708 पर अपने शिकायत पत्र के साथ आधार कार्ड लगाते हुए भेज सकता है, जिस पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। यह वाट्सएप नंबर सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक सक्रिय रहेगा।मोबाइल नंबर 7839930410 पर भी कोई भी पीड़ित महिला शिकायत पत्र के साथ आधार कार्ड भेज सकती है। दो फरियादियों ने श्रमिकों के पंजीकरण न होने के संबंध में अवगत कराया। सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अनीता ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिए कि उप श्रमायुक्त से वार्ता कर तत्काल पंजीकरण कराना सुनिश्चित करें। जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव ने धन्यवाद ज्ञापित किया। सीओ सिटी सिद्धार्थ तोमर, एसओ महिला थाना मधुपनिका, महिला कल्याण अधिकारी प्रीति उपाध्याय, डीसी अन्नु सिंह, वन स्टाप मैनेजर सरिता पाल, रंजना मिश्रा, केस वर्कर ममता यादव, पिकी सिंह, शिवाली त्रिपाठी थीं।

Edited By: Jagran