जागरण संवाददाता, आजमगढ़: कमिश्नर विजय विश्वास पंत ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के प्रकोप के कारण गत वर्ष में मंडल के जिलों में कई विकास कार्यों की प्रगति व रैंकिग प्रभावित हुई है। लेकिन वर्तमान में अनलाक की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। ऐसे में संबंधित अधिकारी तत्काल इस ओर विशेष ध्यान कर प्रगति की अपेक्षित सुधार लाएं। निर्देश दिया कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार नान कोविड अस्पतालों में बच्चों के लिए जो स्पेशल वार्ड बनाया जाना है, उसे तत्काल बना लिया जाए।

उन्होंने शुक्रवार को अपने कैंप कार्यालय से जूम एप के माध्यम से शासन के सर्वोच्च विकास प्राथमिकता से संबंधित कार्यक्रमों की समीक्षा की। उन्होंने तीनों जिलों आजमगढ़, मऊ व बलिया के डीएम एवं सीडीओ से कहा कि विकास कार्यक्रमों को अपेक्षित गति देने के लिए नियमित रूप से समीक्षा एवं अनुश्रवण करते रहें। मुख्य चिकित्सा अधिकारियों निर्देश दिया कि लक्ष्य के सापेक्ष वैक्सीनेशन कराना सुनिश्चित करें। यदि कहीं किसी प्रकार की दिक्कत आ रही है तो उच्चाधिकारियों को तत्काल अवगत कराकर उसका समाधान कराएं। यह भी निर्देश दिया कि गांवों की वैक्सीनेशन के प्रचार प्रसार एवं ग्रामीण में आगरुकता लाने के लिए नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों का सहयोग लिया जाए। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के छोट-बड़े दुकानदारों, ग्राम स्तरीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, सरकारी व निजी विद्यालयों के अध्यापकों आदि का वैक्सीनेशन किए जाने पर विशेष बल दिया जाए। निराश्रित पशुओं के लिए चारा बैंक बनाने, सामुदायिक शौचालयों का निर्माण पूरा करने और अधूरे पंचायत भवन का जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। समीक्षा में डीएम आजमगढ़ राजेश कुमार, मऊ अमित सिंह बंसल व बलिया अदिति सिंह, तीनों जिलों के सीडीओ, सीएमओ एवं अन्य मंडलीय व जनपदीय अधिकारियों से वार्ता की। इस मौके पर अपर आयुक्त प्रशासन अनिल कुमार मिश्र व संयुक्त विकास आयुक्त पीएन वर्मा थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप