मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जासं, जहानागंज (आजमगढ़): श्री चंद्रशेखर स्मारक ट्रस्ट रामपुर में सोमवार को समाजवादी विचारधारा के जननायक, युवा तुर्क नेता व देश के पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर की 12वीं पुण्यतिथि प्रेरणा दिवस के रूप में मनाई गई। इस दौरान मुख्य अतिथि भोजपुरी गायक, सिनेस्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ ने जब चंद्रशेखर जी की मूर्ति पर माल्यार्पण की तो इस दौरान मौजूद लोगों ने 'चंद्रशेखर जी अमर रहे, जब तक सूरज चांद रहेगा, चंद्रशेखर जी का नाम रहेगा' के  उद्घोष की। उद्घोष से परिसर गूंज उठा। समारोह को संबोधित करते हुए निरहुआ ने कहा कि चंद्रशेखर जी युगपुरुष थे। उनकी नीति व उनके विचार आज के परिवेश में भी प्रासंगिक हैं। वे ऐसे भारत का  निर्माण करना चाहते थे जहां  जाति, धर्म व संप्रदाय की कोई जगह न हो। उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री व विधान परिषद सदस्य यशवंत सिंह ने सबसे पहले यहां ट्रस्ट बनाकर व उनकी मूर्ति लगाकर अपने राजनीतिक गुरु के प्रति सच्ची श्रद्धा दिखाई थी। चंद्रशेखर जी का जीवन प्रेरणा स्त्रोत है। उन्हें कुर्सी से नहीं बल्कि देश से प्यार था। चंद्रशेखर जी के विचारधारा की अलख जगाए रखना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।  इस दौरान रामअवध सिंह, प्रियंबदा सिंह, उदय शंकर चौरसिया, अरविद सिंह, सुनील सिंह, रमेश कनौजिया, विक्रांत सिंह, अरुण सिंह, कमर आ•ामी  आदि ने चंद्रशेखर की मूर्ति पर श्रद्धासुमन अर्पित की। समारोह में रामवृक्ष यादव, अरुण सिंह, पंकज पासवान, रविद्र राय, अशोक पांडेय, दिलीप मिश्रा, दिवाकर सिंह आदि ने विचार व्यक्त किया। अध्यक्षता मुस्तफाबाद के प्रधान ओमप्रकाश सिंह ने की।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप