जागरण संवाददाता, आजमगढ़: शासन की सख्ती के बाद प्रशासन ने शहर में यातायात व्यवस्था को सुचारु रूप से संचालित करने और जाम से निजात दिलाने की कवायद प्रशासन ने शुरू कर दी है। आटो व टैक्सी पार्किंग के लिए जगह चिह्नित कर वाहनों को यथास्थान पार्क कराया जाएगा। पार्किंग स्थल से बाहर वाहन पाए जाने पर चालान काटकर कार्रवाई की जाएगी।

डीएम विशाल भारद्वाज ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में ट्रांसपोर्टर एवं व्यापार मंडल के पदाधिकारियों व सदस्यों के साथ कई प्रमुख बिदुओं पर मंत्रणा की। एडीएम वित्त एवं राजस्व आजाद भगत सिंह व ईओ नगर पालिका मनोज कुमार सिंह को शहर में पार्किंग के लिए जगह चिह्नित करने का निर्देश दिया। कहा कि चालक वाहन खड़ा करते समय नो पार्किंग जोन का विशेष ध्यान रखें। कहा कि शहर में बन रहे व्यवसायिक भवनों में भी पर्याप्त पार्किंग की जगह होनी चाहिए। निर्देश दिया कि व्यापार मंडल के साथ समन्वय बनाकर दुकानों के सामने अतिक्रमण खाली कराएं। ठेला, रेहड़ी, खोमचा को थोड़ी-थोड़ी दूर पर प्रमुख स्थानों पर जगह चिह्नित कर लगाना सुनिश्चित करें। सराफा बाजार, चौक, कलेक्ट्रेट भवन और शहर के अन्य प्रमुख भीड़ वाले क्षेत्र में वेंडरों के लिए एक समय निर्धारित कर दिया जाए, जिससे वे ठेले इत्यादि पर घूमकर सामान बेचते रहें। इस दौरान वेंडिग जोन में वाहनों की नो एंट्री रहेगी। मीटिग में मौजूद कारोबारियों, ट्रांसपोर्टरों, भारत रक्षा दल ने ने टूटी सड़कों को जाम का कारण बताते हुए निदान की मांग उठाई। मीटिग में पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा सभ्रांत लोगों को बुलाया गया था।

Edited By: Jagran