जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : कंधरापुर थाना क्षेत्र के सेंहदा गांव स्थित डाक्टर के फार्म हाउस से गुरुवार की सुबह बरामद हुए अधेड़ की मौत की गुत्थी पुलिस ने लगभग सुलझा ली है। पुलिस की मानें तो फार्म हाउस में उक्त अधेड़ की हत्या अवैध संबंधों को ही लेकर की गई है। इस मामले में हिरासत में लिए गए फार्म हाउस के चौकीदार से पूछताछ के बाद पुलिस फरार महिला की तलाश में जुटी हुई है। हत्या में शामिल दो अन्य आरोपितों की पुलिस तलाश में जुटी हुई है।

फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के कटार गांव निवासी 50 वर्षीय अरविद बेनवंशी पुत्र स्व. शिवधन बेनवंशी शहर के करतारपुर में कुछ महीने से किराए का मकान लेकर रहता था। चर्म रोग विशेषज्ञ डा. गजानंद बरनवाल का कंधरापुर थाना क्षेत्र के सेंहदा गांव के पास फार्म हाउस है। उनके फार्म हाउस पर अतरौलिया क्षेत्र के अजगरा गांव निवासी शिव मंगल राजभर पुत्र स्व. सिद्धन चौकीदार के रूप में तैनात है। बुधवार की रात को इसी फार्म हाउस पर अरविद बेनवंशी की हत्या कर दी गई। दूसरे दिन गुरुवार की सुबह फार्म हाउस के मड़ई से पुलिस ने उसका शव बरामद किया था। इस हत्या के मामले में मृत अधेड़ के पुत्र रजनीश की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर संदेह के आधार पर फार्म हाउस के चौकीदार को हिरासत में ले लिया था। सीओ सिटी का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उक्त अधेड़ की ईंट से प्रहार कर हत्या करने की पुष्टि हुई है। सीओ की माने तो मृत अधेड़ का फार्म हाउस के चौकीदार से कुछ माह पूर्व दोस्ती हुई थी। अधेड़ अरविद का शहर की एक महिला के साथ अवैध संबंध चल रहा था। उक्त महिला को लेकर वह घटना की रात में फार्म हाउस पर गया था। वहां पर चौकीदार के साथ मिलकर शराब पिया। शराब के नशे में महिला के साथ अवैध संबंध बनाने को लेकर विवाद हुआ। इस विवाद के दौरान अरविद की ईट से प्रहार कर हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद से उक्त महिला फरार है। सर्विलांस से उसका आखिरी लोकेशन वाराणसी मिला। महिला की तलाश में पुलिस लगी हुई है। चौकीदार के बयान पर पुलिस ने जब दो अन्य लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो वे निर्दोष पाए जाने के बाद छोड़ दिए गए। चौकीदार के साथ हत्या में और कौन शामिल रहा इसकी पूछताछ की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस