आजमगढ़ : शहर कोतवाली क्षेत्र के सर्फुद्दीनपुर चक मिश्रौली गांव में मंगलवार की रात को घर के बाहर सो रहे युवक को अगवा करने के बाद गड़ासे से प्रहार कर उसकी हत्या कर दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी। पुलिस ने हत्या का कारण गांव के ही कुछ लोगों से चल रही आपसी रंजिश बताया है। मृत युवक की मां की तहरीर पर पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपित दो महिलाओं समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।

सर्फुद्दीनपुर चक मिश्रौली गांव निवासी 25 वर्षीय राजू राम पुत्र शिवकुमार राम टेंपो चलाकर परिवार का भरण-पोषण करता था। राजू का गांव के ही सीताराम समेत अन्य लोगों से पुरानी रंजिश रही है। परिजनों का कहना है कि मंगलवार की रात राजू टेंपो लेकर शहर से घर आया और भोजन कर घर के बाहर सो रहा था। रात को गांव के ही दूसरे पक्ष के लोगों ने सोते समय उसे अगवा कर लिया। घर से कुछ दूर स्थित गली में ले जाकर गड़ासे से प्रहार कर उसकी हत्या कर दी। राजू की चीख-पुकार सुन परिजनों को आते देख हमलावर भाग गए। परिवार के लोगों ने घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी। सूचना पाकर सीओ सिटी अजय कुमार यादव, प्रभारी शहर कोतवाल भी मौके पर पहुंच गए। छानबीन के बाद शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ सिटी का कहना है कि इस घटना के संबंध में मृत राजू की मां की तहरीर पर 10 लोगों के खिलाफ नामजद व पांच अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने आरोपित सुख¨वद, मंता समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। शेष आरोपितों की तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

Posted By: Jagran