आजमगढ़: कस्बे की विभिन्न समस्याओं को लेकर निजामाबाद कस्बावासियों ने शनिवार को मेहता पार्क में प्रदर्शन किया और अपनी मांगों से संबंधित पत्रक जिलाधिकारी नीना शर्मा को सौंपा।

इसके अलावा कैफियत एक्सप्रेस को चंडीगढ़ तक चलाने की भी आवाज उठाई।

कस्बे वासियों का कहना है कि नगर पंचायत निजामाबाद तमाम समस्याओं से जूझ रही है। यहां न समय से बिजली आ रही, न पानी मिल रहा है। नगर पंचायत के सभी वार्डो में रास्ते अधूरे पड़े हुए हैं। इसकी वजह से लोगों को आवागमन की समस्या बनी हुई है। सभी वार्डो में महिलाओं के लिए सरकारी शौचालय, अस्पताल, मरीजों के लिए इमरजेंसी सेवा, पानी के लिए नलकूपों की सुविधा न होने से तमाम कठिनाइयां आ रही हैं। निजामाबाद में सरकारी बस स्टेशन नहीं है। कई वर्षो से राशन कार्ड नहीं बन रहा है। निजामाबाद तहसील में बिजली विभाग का उपकेन्द्र लगना था जो अभी तक नहीं लगा। यहां पर बिजली कब आएगी, कब जाएगी इसका कोई समय निर्धारित नहीं है। कस्बावासियों ने मांग की कि उन्हें कम से कम 18 घंटे बिजली मिलनी चाहिए। नगर पंचायत के धोबी घाट का निर्माण किया जाए। फायर स्टेशन न होने से प्रति वर्ष किसानों की सैकड़ों हेक्टेयर फसल व सैकड़ों मड़इयां जलकर नष्ट हो जाती हैं। कस्बे में जगह-जगह नालियां गंदगी से बजबजा रही हैं, लेकिन साफ-सफाई नहीं हो रही है। इससे संक्रामक रोगों के फैलने का खतरा बढ़ गया है। इस अवसर पर अरुण कुमार, कुलदीप, कंचन, अनामिका, अरुण कुमार, कुलदीप कौर, सौरभ सिंह, अच्छे कुमार, दयाराम, श्रवण कुमार गोंड, हरिलाल, जुल्फेकार, जागृति प्रजापति, कांति देवी, अमरावती, कौशिल्या आदि उपस्थित थीं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर