संवाद सूत्र, अछल्दा (औरैया) : थाना क्षेत्र के ग्राम गढ़वाना निवासी एक युवक की सोमवार दोपहर नदी में डूबकर मौत हो गई। शाम तक घर न पहुंचने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। एक वृद्ध महिला ने बताया कि उसने एक युवक को नदी में घुसते देखा था। यह सुनकर ग्रामीण नदी की तरफ दौड़ पड़े। कुछ तैराकों ने उसे खोजने की कोशिश की। लेकिन सफलता नहीं मिली। तब सूचना थाना पुलिस को दी गई। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर गोताखोरों को बुलाया। उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद देर रात्रि शव को बाहर निकाला।

क्षेत्र के ग्राम गढ़वाना निवासी साबिर मोहम्मद (21) पुत्र स्व0 रशीद मोहम्मद के मकान से कुछ दूरी पर अहनैया नदी बहती है। प्रतिदिन की भांति वह सोमवार दोपहर जानवरों को चराने के लिए घर से निकला। उसके जानवर नदी में घुस गए। उनके पीछे-पीछे वह भी जानवरों को निकालने के लिए नदी में चला गया। लेकिन तेज बहाव के चलते वह नदी में डूब गया। गांव की ही एक वृद्ध महिला ने उसे नदी में घुसते देख लिया। जब वह दोपहर खाना खाने के लिए घर नहीं पहुंचा तो उसकी मां ने तलाश शुरू कर दी। काफी खोजबीन के बाद जब वह नहीं मिला तो उक्त वृद्ध महिला ने बताया कि उसने एक युवक को नदी में जाते हुए देखा था। इसके बाद ग्रामीणों का जमावड़ा नदी तट पर लग गया। उनमें से कुछ तैराकों ने नदी में घुसकर उसकी तलाश शुरू कर दी। लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने औरैया से गोताखोरों को बुलाकर तलाश कराई। देर रात्रि घटना स्थल से करीब डेढ़ सौ मीटर पर उसका शव बरामद हुआ। शाबिर की मौत से ग्रामीणों व परिजनों में कोहराम मच गया। मृतक की चार बहनों व दो भाइयों का रो-रोकर बुरा हाल था। मृतक के पिता रहीस की हार्ट अटैक से पहले ही मौत हो चुकी है।

थाना प्रभारी ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। डॉ. एसके ने बताया कि साबिर की मौत पानी में दम घुटने से हुई है। लगभग बारह घंटे शव पानी में रहने से आंतों व पेट में मिट्टी व पानी भरना पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दर्शाया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप