जागरण संवाददाता, औरैया: मौसम का मिजाज सुबह से बदला हुआ रहा। आसमान में छाए बादल गरज के साथ बरसे। इससे कुछ फसलों को जहां लाभ मिला है, वहीं कई फसल के लिए बारिश ने नुकसान पहुंचाने का कार्य किया है। अधिकतम तापमान 32 व न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं सदर कोतवाली क्षेत्र के जरूहौलिया रोड पर बाइक फिसलने से युवक घायल हो गया। जिसे राहगीरों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

जिले में बीते एक सप्ताह से मौसम में परिवर्तन देखने को मिल रहा है। बुधवार को सुबह से आसमान में बादल छाए रहे। दोपहर में कुछ देर के लिए बारिश हुई। देर शाम बूंदाबांदी हुई। मौसम विज्ञानी व कृषि विशेषज्ञ डा. अनंत कुमार ने बताया कि बारिश से तिली व बाजरा की फसल को ज्यादा नुकसान है। धान व बोई जाने वाली रबी की फसल के लिए बारिश लाभदायक है। उधर, मौसम में परिवर्तन से संक्रामक रोगों का खतरा भी बढ़ा है। डा. अनंत कुमार का कहना है कि बारिश के मौसम में मौसमी बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। कारण, तापमान में उतार-चढ़ाव है।

वहीं जिन फसलों को नुकसान है, उसे लेकर किसान भी परेशान हैं।

------

बुखार पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ी

मौसम में परिवर्तन के साथ मौसमी बीमारियों की चपेट में लोग ज्यादा आ रहे हैं। 50 शैया संयुक्त जिला अस्पताल सहित स्वास्थ्य केंद्रों पर बुखार, खांसी-जुकाम व त्वचा रोग से ग्रसित मरीजों की संख्या ज्यादा है। एसीएमओ डा. शिशिर पुरी का कहना है कि वायरल बुखार के केस अस्पताल में ज्यादा आ रहे हैं। मरीजों को बदलते मौसम के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

Edited By: Jagran