संवाद सहयोगी, अजीतमल: गुरुवार की सुबह करीब सवा 10 बजे राष्ट्रीय राजमार्ग-19 पर औरैया से इटावा की ओर आ रहे एक ट्रक ने मिक्सर मशीन लदी ट्रैक्टर ट्राली को पीछे से टक्कर मार दी। ट्राली पर करीब 15 श्रमिक सवार थे। तेज टक्कर की वजह से ट्रैक्टर अनियंत्रित होने से वह ट्राली सहित पलट गया। जिस कारण आठ श्रमिक गंभीर रूप से घायल हो गए। श्रमिकों की चीख पुकार सुनकर राजमार्ग से निकल रहे वाहन सवार रुक गए। उन्होंने घटनास्थल से नजदीक टोल प्लाजा अनंतराम होने से वहां के स्टाफ को टोल फ्री नंबर से जानकारी दी। इसके बाद टोलकर्मी पहुंचे। उन्होंने कोतवाली सदर पुलिस को सूचना देते हुए घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए एंबुलेंस से भेजा। घायलों में चार की हालत गंभीर होने से उन्हें सैफई अस्पताल के लिए रेफर किया गया।

कोतवाली पुलिस के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग-19 पर अजीतमल के पास एसर पेट्रोल पंप के पास हादसा हुआ। अजीतमल से चंदूपुर श्रमिक एक निर्माणाधीन मकान में छत पर लेंटर ढालने आ रहे थे। ट्रैक्टर ट्राली पर मिक्सर मशीन दी। उस पर श्रमिक बैठे हुए थे। इटावा की ओर आ रहे ट्रक ने पीछे से टक्कर मार दी, जिससे कुछ श्रमिक उछलकर दूर जा गिरे। ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से कुछ उसके नीचे दब गए। हादसे के बाद ट्रक सहित चालक भाग निकला। आठ लोग घायल हुए हैं। सीएचसी में उन्हें भर्ती कराया गया है। हादसे की वजह से हाईवे पर जाम की स्थिति बनी। टोल कर्मी घटनास्थल पर पहुंच गए थे। हाईवे पर जाम लगता देख उनके हाथ पांव फूल गए। करीब 20 मिनट तक जाम में वाहन सवार फंसे। इस समस्या को दूर करने के लिए वाहनों को धीरे-धीरे निकाल यातायात को सुचारू कराया गया। टोल कर्मियों के अनुसार हादसें में घायल हुए श्रमिक चालक गौरी शंकर पुत्र भगवान सिंह, पप्पू पुत्र विसर्जन, हीरालाल पुत्र मचल, ज्ञान सिंह पुत्र राम लखन, सोनू पुत्र रामदत्त, प्रमोद पुत्र राजीव कुमार, सागर पुत्र रमेश बाबू, कुंवर सिंह पुत्र सुखराम हैं। सभी जौरा गांव कोतवाली सदर औरैया निवासी हैं। इन्हें सीएचसी में भर्ती कराया गया था। इनमें

सोनू, पप्पू, प्रमोद व ज्ञान सिंह की हालत ज्यादा खराब होने से चिकित्सकों ने उन्हें इटावा सैफई अस्पताल भेजा। स्वजनों को पुलिस ने हादसे की जानकारी दी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप