जागरण संवाददाता, औरैया: सदर कोवताली के गांव पढ़ीन में चुनावी रंजिश के चलते दो पक्षों में 12 सितंबर को मारपीट व फायरिग की घटना हुई थी। मारपीट में दोनों पक्षों से आठ लोग घायल हुए थे। इस मामले में दोनों पक्षों से मुकदमा दर्ज किया गया। बुधवार को पुलिस ने दबिश देकर चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उन्हें न्यायालय में पेश किया है।

पढ़ीन गांव में 12 सितंबर को चंद्रप्रकाश व प्रधानपति विजय कुमार के बीच चुनावी रंजिश के चलते विवाद हो गया था। मामला बढ़ते देख चंद्रप्रकाश के भाई प्रशांत, भूपेंद्र व वीरू मौके पर लाठी-डंडा लेकर पहुंच गए थे। इसके बाद विजय के पक्ष से भी अन्य लोग आ गए थे और दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडा चले थे। मारपीट के दौरान दोनों पक्षों से फायरिग भी की गई थी। वहीं एक गोली देवकी के दाहिने पैर के ऊपर के हिस्से में लग गई थी। इसमें दूसरे पक्ष से संजीव के हाथ से छूकर गोली निकल गई थी। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया था। बुधवार को उप निरीक्षक दिनेश कुमार ने दबिश देकर एक पक्ष से पवन कुमार उर्फ भूपेंद्र पुत्र मोहनलाल व वीरू उर्फ जयप्रकाश पुत्र जवाहर लाल व दूसरे पक्ष से संजीव उर्फ संजू पुत्र रामबाबू, संजीव कुमार उर्फ सोनू पुत्र राडीलाल निवासी पढ़ीन को गिरफ्तार कर लिया है। सीओ सिटी सुरेंद्रनाथ यादव ने बताया कि मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे थे। बुधवार को दोनों पक्षों के चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Edited By: Jagran