जासं, औरैया: फफूंद थाना क्षेत्र के गांव महिपत सिंह का पुर्वा निवासी एक किसान शनिवार की सुबह खेत पर काम कर रहा था। इसी बीच एक सांड़ ने उस पर हमला कर दिया। जान बचाने के लिए भागते किसान को सांड़ ने दो से तीन बार पटक दिया। पास के खेत में काम कर किसानों की नजर पड़ने पर वह बचाव में आए। किसी तरह घायल किसान को सुरक्षित करते हुए 50 शैया जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। यहां हालत नाजुक देख चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय सैफई के लिए रेफर कर दिया।

गांव महिपत सिंह का पुर्वा निवासी सोनू सिंह पुत्र सोवरन सिंह शनिवार की सुबह अपने खेत की घास निकाल रहा था। तभी एक सांड़ ने उस पर हमला कर दिया। चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर दूसरे खेत में काम कर रहे किसान दौड़ पड़े। लाठी-डंडों के सहारे किसी तरह सोनू को सांड़ से बचाया गया। इस बीच वह गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर पहुंचे स्वजन घायल को 50 शैया जिला संयुक्त चिकित्सालय लेकर पहुंचे। यहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे सैफई रेफर कर दिया। ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में निराश्रित मवेशी ज्यादा संख्या में है। जो आए दिन हमला कर देते हैं। प्रशासन सुध नहीं ले रहा।

--------------------

कुल्हाड़ी से किया जानलेवा हमला, मुकदमा दर्ज

संस, अजीतमल: कोतवाली क्षेत्र के गौहानी कला मोहल्ला में एक किसान को दो लोगों ने जान से मारने की नीयत से कुल्हाड़ी मार दी। इसमें वह घायल हो गया। पीड़ित के भाई की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

गौहानी कला निवासी सुधीर त्रिपाठी पुत्र कृष्ण बिहारी ने शनिवार को कोतवाली पुलिस को घटना की जानकारी दी। आरोप लगाते हुए कहा कि भाई शिव शंकर को खेत के विवाद को लेकर गांव निवासी महावीर पुत्र भूरे लाल व वेदपाल पुत्र बदलू केवट ने एक राय होकर पहले अपशब्द कहा। इसका विरोध करने पर कुल्हाड़ी मार दी। घायल हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने पीड़ित के भाई की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की है।

Edited By: Jagran