संवाद सहयोगी, बिधूना: दिल्ली से ट्रेन से वापस घर आ रहे एक युवक की इटावा के भरथना के पास गिरकर मौत हो गई। जिससे घर में कोहराम मच गया। वह अपने घर का इकलौता पुत्र था। युवक की मौत से गांव में शोक का माहौल है।

कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रावतपुर निवासी राजीव त्रिपाठी का इकलौता पुत्र सुधीर 23 दिल्ली में प्राइवेट नौकरी करता था। सोमवार की शाम वह दिल्ली से वापस ट्रेन से घर आ रहा था। जैसे ही वह संगम एक्सप्रेस से भरथना पहुंचा तभी वह ट्रेन से गिर गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। जैसे ही यह जानकारी परिजनों को हुई तो गांव में कोहराम मच गया। ग्राम प्रधान हरभजन ¨सह जादौन, वीरेन्द्र भदौरिया, सुरेश चंद शुक्ला, सौरभ तिवारी, गौरव तिवारी, हरगो¨वद सेंगर आदि ने मृतक के बाबा लालबहादुर, मां सुमन व बहनों मोनिका, प्राची और रिचा आदि को ढांढस बंधाया। ग्रामीणों ने कहा कि सुधीर बहुत ही मिलनसार युवक था। परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। मृतक अपने पिता व चाचा मनोज के बीच इकलौता बेटा था। अभी वह अविवाहित था। जवान व इकलौते बेटे की मौत पर गांव के लोग शोक में डूबे हुए हैं।

Posted By: Jagran