संवादसूत्र, एरवाकटरा(औरैया) : कस्बा कटरा चौराहा से छिबरामऊ को जाने वाली सड़क बहुत ही खस्ताहाल है। इसके दोनों तरफ बने मकानों धूल से प्रभावित हो रहे हैं। वाहनों के निकलने पर उड़ती धूल घरों के अंदर तक पहुंचती है। यहां के लोग काफी परेशान है। इसके अलावा कई लोग बीमारी से भी ग्रसित हो चुके हैं। यह सड़क राजमार्ग की श्रेणी में आती है। जो जीटी रोड में जाकर मिलती है। इस सड़क का पांच किमी का हिस्सा जनपद की सीमा में है। जिसकी हालत लंबे अर्से से खराब है। पिछले छह वर्षों से इस मार्ग पर कोई मरम्मत नहीं हुई है। विभागीय अफसरों ने भी कोई ध्यान नहीं दिया। पहले इस मार्ग पर कई बड़े-बड़े गड्ढे थे। थोड़ी सी बरसात होने पर वाहन चालक व यहां के निवासी कीचड़ से परेशान होते हैं। बारिश में यात्रियों के कपड़े भी कीचड़ से खराब हो जाते हैं। अब कोई बड़ा वाहन निकलता है तो सड़क से उड़ती धूल दोनों तरफ बने मकानों में पहुंचती है। महिलाओं को पूरे दिन साफ सफाई करनी पड़ती है। कई लोग धूल की एलर्जी से बीमार भी पड़ गए हैं। इस मार्ग पर बिधूना- छिबरामऊ तक 30 बसों के परमिट हैं। इनका प्रतिदिन आवागमन रहता है। सरकार टैक्स वसूलती है। फिर भी दोनों साइड के भवन स्वामी धूल खा रहे हैं। लल्ला अख्तर अली, रामवीर राठौर, मुनेंद्र यादव, बाबा हसरुद्दीन, रामऔतार पाल, विपिन, हबीब अली , मुकुल प्रताप सिंह, प्रवीण गुप्ता ने कहा कि अगर इस मार्ग को दुरूस्त नहीं कराया जाता है। तो वह आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस