जागरण संवाददाता, कानपुर : छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के 33वें दीक्षा समारोह में बेटियों का जलवा रहा। 2,64,595 छात्र-छात्राओं को उपाधि दी गईं। इनमें 138752 छात्राएं व 125843 छात्र शामिल हैं। कुल 47 छात्र-छात्राओं को 74 पदक दिए गए। इनमें 38 छात्राएं और नौ छात्र शामिल हैं। डीजी कॉलेज की छात्रा प्राची तिवारी को कुलाधिपति स्वर्ण पदक, दो कुलाधिपति रजत पदक समेत सर्वाधिक छह पदक मिले।

52 छात्र-छात्राओं को पीएचडी की उपाधि दी गई। मंगलवार को विवि के सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि गृहमंत्री राजनाथ सिंह और विशिष्ट अतिथि सूबे के उपमुख्यमंत्री व उच्च तथा माध्यमिक शिक्षा मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने की। शोभायात्रा के दौरान कार्यपरिषद, विद्यापरिषद, विभिन्न संकायाध्यक्षों संग सभी अतिथि सभागार में पहुंचे। दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कुलपति प्रोफेसर नीलिमा गुप्ता ने अतिथियों के समक्ष उपलब्धियां गिनाईं। इसके बाद नेशनल असेसमेंट एंड एक्रीडिटेशन (नैक) के निदेशक डॉ.एससी शर्मा को राज्यपाल रामनाईक, मुख्य अतिथि गृहमंत्री राजनाथ सिंह व विशिष्ट अतिथि सूबे के उपमुख्यमंत्री व उच्च तथा माध्यमिक शिक्षा मंत्री डॉ.दिनेश शर्मा ने मानद उपाधि देकर सम्मानित किया। इसके बाद सभी अतिथियों ने छात्र-छात्राओं व शिक्षकों को संबोधित किया।

समारोह में उपस्थित अतिथि

इस दौरान मुख्य रूप से महापौर प्रमिला पांडेय, जागरण समूह के चेयरमैन योगेंद्र मोहन गुप्त, जागरण एजूकेशन फाउंडेशन के सीईओ डॉ. जे एन गुप्ता, सांसद देवेंद्र सिंह भोले, विधायक महेश त्रिंवेदी, नीलिमा कटियार, एमएलसी अरुण पाठक, एडीजी अविनाश चंद्र, डीएम विजय विश्वास पंत, एसएसपी अनंतदेव तिवारी, एकेटीयू कुलपति प्रोफेसर विनय पाठक, एचबीटीयू कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र बहादुर सिंह, सीएसजेएमयू कुलसचिव डॉ.विनोद कुमार सिंह, प्रोफेसर संजय स्वर्णकार, चीफ प्रॉक्टर नीरज कुमार सिंह, संदीप सिंह, विनय त्रिवेदी, डॉ.कमलेश यादव, डॉ.विवेक द्विवेदी आदि मौजूद रहे। शोभायात्रा निकाली : विवि में दीक्षा समारोह कार्यक्रम की शुरुआत से पहले सभागार पहुंची शोभायात्रा गाजे-बाजे संग निकली। पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

कार्यक्रम के माध्यम से विवि के प्रशासनिक अफसरों ने पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। पूरे कार्यक्रम में प्लास्टिक का उपयोग नहीं किया गया। अतिथियों को पेन के बजाए पेंसिल दी गईं। बताया गया कि जो फाइल उन्हें दी गईं, वह पूरी तरह से पानी में घुल जाएगी। ई-ग्रीवांस पोर्टल व ई-न्यूज लेटर मंत्रा की शुरुआत : विवि के छात्र-छात्राएं अब ऑनलाइन शिकायत दर्ज करा सकेंगे। मंगलवार से ई-ग्रीवांस पोर्टल की शुरुआत हो गई। राज्यपाल राम नाईक ने बटन दबाकर इसकी शुरुआत की। इसी तरह विवि की ऑनलाइन पत्रिका ई-न्यूज लेटर मंत्रा का भी विमोचन किया गया। इनके लिंक भी विवि की वेबसाइट पर मुहैया करा दिए गए।

-------------------------

वेबसाइट पर सजीव प्रसारण

जिस तरह विवि के 15 अगस्त कार्यक्रम का वेबसाइट पर सजीव प्रसारण हुआ था, उसी तरह दीक्षा समारोह का भी लाइव प्रसारण किया गया।

Posted By: Jagran