जागरण संवाददाता, औरैया : शासन के आदेश पर जिला अस्पताल की ओपीडी में चार माह पहले स्टाक में दवाओं को दिखाने के लिए ओपीडी में एलईडी लगाई गई थी। जिससे पता चल सके कि अस्पताल में कौन सी दवा मौजूद है। लेकिन यह एलईडी बिना चले ही खराब हो गई।

शासन ने प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में एलईडी लगाने को कहा था। एलईडी पर अस्पताल में मौजूद दवाएं प्रदर्शित की जानी थी। जिसस डाक्टरों को जानकारी हो सके कि अस्पताल में कौन सी दवा मौजूद है और कौन सी नहीं। जो दवाएं मौजूद हो उन्हें डाक्टर मरीजों को लिखें। इसके चलते कुछ समय पहले जिला अस्पताल की ओपीडी में एलईडी लगा दी गई थी। लेकिन वह एक दिन भी चल नहीं सकी थी। इसके बाद एलईडी गायब हो गई। जागरण ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया। बुधवार को अस्पताल के कर्मचारियों ने बताया कि एलईडी खराब हो गई थी। वह ठीक होने गई है। जबकि सूत्रों का कहना है कि एलईडी अस्पताल के एक डाक्टर के आवास पर लगी है। जिला अस्पताल के सीएमएस डा. हीरा ¨सह ने बताया कि इंटरनेट का कनेक्शन न होने से वह बंद है। एलईडी ओपीडी में ही लगी है। उन्होंने एक कर्मचारी को एलईडी को देखने भेजा। इस पर उसने बताया कि एलईडी ठीक होने गई है।

By Jagran