संवादसूत्र,अछल्दा(औरैया): थाना क्षेत्र के गांव रमनगरिया में एक महिला का शव फांसी पर झूलता मिला था। मृतका के परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर ससुरालियों पर रिपोर्ट दर्ज की थी और पति,सास व ससुर को हिरासत में ले लिया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की पुष्टि हो गई है। इसके अलावा शरीर में मिले चोट के निशान से अंदाजा है कि मारने से पहले महिला के साथ मारपीट भी की गई।

क्षेत्र के गांव छछूंद निवासी प्रताप सिंह यादव की पुत्री उषा देवी की शादी 2007 ग्राम में रमनगरिया निवासी लखनऊ में तैनात सिपाही सहदेव के पुत्र रजनीश से हुई थी। मृतका के पिता का आरोप है कि शनिवार को किसी बात को लेकर घर में कहासुनी हो गई। जिस पर ससुरालियों ने मारपीट कर हत्या कर दी और फांसी पर लटका दिया। पुलिस ने पति रजनेश कुमार,ससुर सहदेव सिंह पुत्र बाबूराम व सास मालती देवी को हिरासत में ले लिया जबकि देवर फरार हो गया। आज दूसरे दिन थानाध्यक्ष शशांक राजपूत ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की पुष्टि हो गई है। आरोपी सास ससुर व पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। देवर की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

इनसेट-

फांसी लगने से ही मौत की पुष्टि

बेला: क्षेत्र के गांव कुर्सी में नवविवाहिता रश्मि देवी (24 वर्ष) का शव फांसी पर लटका मिला था। मृतका के भाई सोनू निवासी सरकौड़ा थाना रूरा ने पति गोविद , ससुर श्याम सिंह व सास मीना देवी के विरुद्ध दहेज में बाइक न मिलने पर हत्या कर शव फांसी पर लटकाने की तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आज आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हैंगिग से मौत आई है। थानाध्यक्ष विष्णु गौतम का कहना है कि हत्या की पुष्टि नही हुई है।

नोट इसे पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की पुष्टि खबर में इनसेट लगा दे

बेटियां रोकर बोली हम लोग कहां रहेंगे

अछल्दा: ग्राम रमनगरिया में ऊषा देवी की मौत के बाद उसकी बेटी लवी(8) छवी(6) व शिवांगी (5) छह माह की मासूम को गोद में लिए रो रोकर कह रही थी कि अब लोग कहां रहेंगी। मृतका के पिता अपना नातिनों को अपने घर ले गए। कहा कि ससुराली चौथा बच्चा भी लड़की होने से मारपीट करते थे और इसी कारण उसकी बेटी की हत्या कर दी गई।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस