संवाद सहयोगी, बिधूना : सीओ कार्यालय से चंद कदम दूरी पर बाइक सवार बदमाशों ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का गला दबाकर सोने की चेन, कुंडल व पांच हजार रुपये लूट लिए। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपित भाग रहे थे, तभी एक व्यापारी ने उनका पीछा किया। आरोपित उसे जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकले। पुलिस ने स्कूल व पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी फुटेज चेक किए हैं।

कस्बा के नवीन बस्ती लोहिया नगर निवासी पूर्व जिला पंचायत सदस्य एवं विमटामऊ ग्राम पंचायत के प्रधान अशोक कठेरिया की पत्नी विजय लक्ष्मी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं। बुधवार को दोपहर वह विभागीय कार्य से बाल विकास परियोजना कार्यालय पर गई थी। वापस लौटते समय जब वह होली चाइल्ड स्कूल के आगे पहुंची, तभी पीछे से आ रहे एक बाइक सवार दो लुटेरों ने उनका गला दबाकर उन्हें जमीन पर गिरा दिया और उनके गले से सोने की चेन, कानों के कुंडल व पांच हजार रुपये से भरा हैंडबैग छीन लिया। चीखने की आवाज सुनकर आसपास के लोग लुटेरों को पकड़ने के लिए दौड़े। लुटेरों को भागते देख लोहिया नगर में शटरिग का कार्य कर रहे राजेंद्र गुप्ता ने लुटेरों का बाइक से पीछा किया और पेट्रोल पंप चौराहे पर वह लुटेरों से भिड़ गए, तभी लुटेरों ने जान से मारने की धमकी थी और बेला रोड की तरफ भाग गए। सूचना पर सीओ मुकेश प्रताप व कोतवाल राजदेव प्रजापति मौके पर पहुंच गए। उन्होंने पीड़िता व आरोपितों का पीछा करने वाले व्यक्ति से पूछताछ की। पुलिस ने होली चाइल्ड स्कूल व पेट्रोल पंप पर सीसीटीवी फुटेज चेक किए। सीओ ने जल्द ही घटना का खुलासा किए जाने का आश्वासन दिया है। पीतल का बिस्किट थमाकर पार किए जेवरात

सराफा की दुकान पर जांच कराने के बाद उड़े महिला के होश

रोडवेज डिपो के पास टप्पेबाजों ने घटना को दिया अंजाम

जागरण संवाददाता, औरैया : शहर के रोडवेज बस स्टेशन के पास बुधवार दोपहर एक महिला के टप्पेबाजों ने जेवरात ठग लिए। इसके बाद उसे झांसा देकर कुछ देर तक बैठाए रखा। जब तक वह कुछ समझ पाती, तब तक आरोपित मौके से फरार हो गए थे। पीड़िता ने कोतवाली में मामले की तहरीर दी है।

जनपद जालौन निवासी वैजयंती शर्मा पत्नी गुड्डू बुधवार दोपहर जनपद कन्नौज थाना तिर्वा जाने के लिए प्राइवेट वाहन से उतर कर दिबियापुर बस स्टॉप पर जा रही थीं। रास्ते में उसे एक युवक ने रोक लिया तथा उससे पूछा कि वह कहां जा रही हैं। जिस पर महिला ने उसे कन्नौज जाने की बात बताई। युवक ने कहा कि वह भी कन्नौज जाएगा। वह महिला के साथ चलने लगा। उसने महिला से कहा कि क्या वह मनोज को जानती है। महिला ने कहा कि वह पुलिस विभाग में सिपाही के पद पर तैनात है। उसी समय एक अधेड़ आ गया और उसने महिला को रुमाल से एक पीले कागज में बंद धातु का बिस्किट दिया। इसके बाद कहा कि यह सोने का बिस्किट है, वह खरीद ले। पहले से मौजूद युवक ने उसका सहयोग करते हुए उसे खरीदने को कहा। उसने कहा कि यह करीब 6 लाख रुपए का है। इसके बाद महिला ने कहा कि उसके पास इतने रुपए नहीं हैं। जिस पर युवक ने उससे मंगलसूत्र देने को कहा। महिला ने अपने गले का मंगलसूत्र उतार कर उसे दे दिया। इसके बाद उसने कहा कि यह बहुत कम है झुमकी और दे दो। जिस पर महिला ने उसे अपने कानों की झुमकी भी उतार कर दे दीं। अधेड़ कुछ समय बाद होटल के समीप मिलने की बात कहकर चला गया। इसके बाद साथी युवक उसे सुभाष चौक स्थित एक होटल के समीप करीब 15 मिनट तक बैठाए रखा। इसके पश्चात जब अधेड़ लौटकर नहीं आया तो युवक ने महिला से कहा कि उसे देखने जा रहा है। यह बहाना बनाकर वहां से खिसक गया। संदेह होने पर महिला ज्वैलर्स की दुकान पर पहुंची तथा बिस्किट को चेक कराया। ज्वैलर्स ने उसे बताया कि बिस्किट पीतल का है। वह रोती बिलखती सीओ कार्यालय पहुंची। जहां पर उसने कंट्रोल रूम पुलिस के सामने आपबीती बताई। पुलिस ने उसे कोतवाली जाकर शिकायत करने को कहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप