औरैया, जागरण संवाददाता। रिश्ते उस समय शर्मसार होते नजर आए जब एक युवक अपने भाई की मौत के बाद भाभी को गंदी निगाह से देखने लगा। जब भाभी ने उसके प्यार के इजहार से इन्कार कर दिया तो उसके सिर पर खून सवार हो गया। रविवार की शाम उसने हद पार कर दी और चारपाई पर लेटी भाभी को चाकू से गोदकर मौत के घाट उतार दिया। घटना जनपद के रुरुगंज चौकी क्षेत्र के पीताराम पुरवा गांव की है, पुलिस ने घटना की पड़ताल शुरू करके आरोपित देवर की तलाश शुरू की है। 

एक साल पहले हुई भाई की मौत

पुलिस के अनुसार रुरुगंज चौकी क्षेत्र के पीताराम पुरवा गांव में तकरीबन एक साल पहले बीमारी से किसान की मौत हो गई थी। उसकी मौत के बाद उसके भाई की नजरें विधवा भाभी पर खराब होने लगी थीं। वह कई बार भाभी से नजदीकियां बढ़ाने का भी प्रयास कर चुका था लेकिन भाभी अक्सर उसकी हरकत को मजाक मान लेती थी। 

भाभी को हर हाल में बनाना चाहता था अपना

देवर पर एक तरफा प्यार का खुमार सवार था और वो भाभी को हर हाल में अपना बनाना चाहता था। इसके लिए उसने प्यार का इजहार तक किया था लेकिन भाभी उसकी बातें सुनकर झिटक दिया था। इसके बाद से भाभी ने उससे दूरियां भी बना ली थीं। रविवार की शाम घर के लोग कमरे में गए तो विधवा महिला का खून से लथपथ पड़ा शव देखकर चीख पड़े। सूचना पर गांव पहुंची पुलिस ने भी छानबीन की। 

भाभी चाकू से गोदकर मारने के बाद देवर फरार

ग्रामीणों और घरवालों ने पुलिस से आशंका जताई कि घर से आरोपित देवर फरार है। उसने ही प्यार का विरोध करने वाली भाभी को चाकू से गोदकर माैत की नींद सुलाया और फिर भाग निकला। परिवार में कुछ लोगों ने कहा कि सबकुछ ठीक था लेकिन अचानक क्या हो गया पता नहीं।

बिधूना क्षेत्राधिकारी महेंद्र प्रताप सिंह फाेरेंसिक टीम के साथ पहुंथे और घटनास्थल पर साक्ष्य जुटाए गए। सीओ का कहना है कि आरोपित को पकड़ने के लिए गांव व आसपास के क्षेत्रों में पुलिस ने घेराबंदी की है। घटना को लेकर हर बिंदु पर जांच की जा रही है, स्वजन अभी ज्यादा कुछ स्पष्ट नहीं कर रहे हैं।

Edited By: Abhishek Agnihotri

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट