जागरण संवाददाता, औरैया : सदर कोतवाली के जालौन चौराहे पर पुलिस व एआरटीओ ने संयुक्त रूप से ओवरलोडेड वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया। इस दौरान 20 ओवरलोडेड वाहनों के खिलाफ कार्रवाई की गई। वहीं अभियान चलने से यातायात भी बाधित रहा। जालौन-औरैया मार्ग पर तकरीबन तीन घंटे तक जाम लगा रहा। बाद में धीरे-धीरे करके वाहनों को निकाला गया।

मंगलवार सुबह एआरटीओ, खनन अधिकारी व सीओ सिटी सुरेंद्रनाथ ने संयुक्त रूप से ओवरलोडिग के खिलाफ अभियान चलाया। अभियान चलाए जाने की जानकारी होते ही चालक अपने वाहनों को सड़क किनारे खड़ा करके वहां से भाग गए। देखते ही देखते औरैया-जालौन मार्ग पूरी तरह से अवरुद्ध हो गया। कई यात्री घंटों फंसे रहे। कुछ वाहनों को देवकली चौकी से खानपुर होते हुए निकाला गया, जबकि कुछ को जालौन चौराहे पर ही रोक दिया गया। धीरे-धीरे जाम की स्थिति और गंभीर हो गई। खनिज अधिकारी व एआरटीओ प्रशासन धनवीर यादव ने 20 ओवरलोडेड वाहनों का चालान किया है। कई वाहनों में नंबर प्लेट ही नहीं थी। जिस पर चेचिस नंबर देखकर कार्रवाई की गई। एआरटीओ ने बताया कि कई बार वाहन मालिकों को निर्देश दिए जा चुके हैं कि वह निर्धारित मानक के अनुरूप ही अपने वाहनों पर माल लाएं, लेकिन उनकी कार्यप्रणाली में कोई सुधार नहीं आया। अभियान चलने से करीब तीन घंटे तक यातायात बाधित रहा। सहायक संभागीय परिवहन कार्यालय में ऑडिट करने पहुंची टीम

औरैया: जनपद के सहायक संभागीय परिवहन कार्यालय में कार्यों का ऑडिट करने के लिए टीम लखनऊ से पहुंच चुकी है। टीम सभी जरूरी दस्तावेज और डाटा तलब कर रही है। इसके लिए मंगलवार को टीम ने एआरटीओ धनबीर यादव से पुराने रिकॉर्ड की जानकारी ली। उल्लेखनीय है कि परिवहन विभाग द्वारा हर कार्यालयों में आडिट किया जाता है। इसके लिए विशेष टीम गठित की जाती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस