मंडी धनौरा : प्रसिद्धि पाने के लिए युवकों को इंटरनेट मीडिया पर तमंचा लहराते हुए वीडियो वायरल करना भारी पड़ गया। वीडियो वायरल होने पर हरकत में आई पुलिस ने दोनों नवयुवकों को तमंचा व कारतूस सहित गिरफ्तार कर चालान कर दिया।

बुधवार को युवकों द्वारा तमंचा लहराते हुए वीडियो वायरल किया गया था। इस वीडियो में एक युवक तमंचे से फायर झोंक रहा था। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आ गई। हालांकि थाना प्रभारी निरीक्षक तो वीडियो तक नहीं देखे जाने की बात कह रहे थे। मामला जब आला अधिकारियों के संज्ञान में पहुंचा तो उन्होंने कार्रवाई के आदेश दिए। इसके बाद आनन-फानन में ही पुलिस ने वीडियो में दिख रहे दोनों युवकों को एक-एक तमंचा व कारतूस सहित गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ के दौरान पकड़े गए आरोपितों ने अपना नाम रितिक निवासी गांव सैदपुर थाना बछरायूं व दूसरे ने अपना नाम जितेंद्र निवासी गांव कलाली बताया। कहा फेमस होने के लिए उन्होंने यह वीडियो बनाकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल किया था। दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चालान कर दिया है। थाना प्रभारी निरीक्षक जयवीर सिंह ने बताया कि वीडियो में दिख रहे दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दूसरे वायरल वीडियो का आरोपित पकड़ से दूर

पिछले एक सप्ताह में अवैध तमंचा के साथ वायरल हुए तीन वीडियो में से दो मामलों में पुलिस आरोपितों को पकड़ कर जेल तक भेज चुकी है। दूसरे वायरल वीडियो का आरोपित अभी पुलिस की पकड़ से दूर है। यह वीडियो शहर के एक मुहल्ले का बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस ने अभी इस मामले में कोई भी कार्रवाई नहीं की है। आखिर कहां से आ रहे तमंचे?

वीडियो में तमंचा लहराने वाले आरोपितों को तो पुलिस पकड़ रही है लेकिन, इस बात की तफ्तीश नहीं की जा रही कि यह तमंचे आखिरकार इन युवकों तक कहां से और कैसे पहुंच रहे। तमंचे कौन, कहां बना रहा और कौन सप्लाई कर बिक्री कर रहा है? यह सवाल रहस्य बने हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप