अमरोहा : उपजिलाधिकारी द्वारा छापा मारकर पकड़े गए चावल मामले में पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा कायम कर लिया है। आरोपित मंडी समिति के लाइसेंस की आड़ में राशन की कालाबाजारी कर रहा था।

मुखबिर की सूचना पर एसडीएम इंद्रनंदन सिंह ने 28 मई की रात दस बजे गजस्थल गांव में छापा मारा और एक घर के सामने चावल से लदे ट्रैक्टर-ट्राली को पकड़ा। उन्होंने पूर्ति विभाग के अधिकारियों को जांच सौंपी। एआरओ ने मामले की जांच की तो पूरा खेल खुलकर सामने आ गया। चावल सरकारी पाया गया।

खुलासा हुआ कि औसाफ अली पुत्र मीर खान निवासी गांव दौलतपुर मंडी समिति के लाइसेंस की आड़ में राशन के चावल की खरीद-फरोख्त कर उसे ब्लैक में बेचता है। अधिकारियों ने उससे पूछताछ की तो ट्राली में उसने 30 क्विटल चावल बताए लेकिन, धर्मकांटा पर तौल कराने के दौरान 45.25 क्विटल चावल पाए गए। पूरी जांच पड़ताल के बाद क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी आनंद प्रभु सिंह ने आरोपित के खिलाफ थाने में तहरीर दी, जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। चावल कालाबाजारी के लिए जा रहा था। जांच में उसकी पुष्टि हो चुकी है। आरोपित के खिलाफ नौगावां सादात थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

इंद्रनंदन सिंह, एसडीएम, नौगावां सादात।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस