रहरा : भारतीय किसान यूनियन असली की गंगेश्वरी ब्लाक परिसर में आयोजित मासिक पंचायत में प्रदेश उपाध्यक्ष प्रमोद नागर ने कहा कि किसानों को गत वर्ष के गन्ने का बकाया भुगतान ब्याज सहित दिलाया जाए।

कहा स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार फसलों का मूल्य निर्धारित किया जाए। त्रिवेणी शुगर मिल द्वारा अक्टूबर माह में बोए गए गन्ने को सर्वे रिपोर्ट में फरवरी-मार्च में बोया हुआ दिखाया जा रहा है। जिसका किसान विरोध करेंगे। जिला उपाध्यक्ष ओमपाल सिंह ने कहा कृषि कानून किसान विरोधी है, किसान आखरी सांस तक कृषि कानून का विरोध करेंगे। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ सभी पात्र किसानों को नहीं मिल रहा है। सभी पात्रों को योजना का लाभ दिलाया जाए।

बैठक में ओमी सेठ, जसपाल सिंह, ब्रहम सिंह, मनवीर सिंह, अमरीश गुर्जर, कपिल कुमार, अनुज नागर आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस