गजरौला : हसनपुर रोड स्थित उमंग डेयरीज एक बार फिर चर्चा में है। यहां सिक्योरिटी कंपनी बदले जाने से पुराने गार्ड बाहर हो गए हैं। नई कंपनी ने अपने गार्ड तैनात किए हैं। वहीं पुराने गार्डों ने जुलाई माह की पगार और पिछले करीब सात माह से रुका चल रहा एक दिन का भुगतान दिलाने की मांग को लेकर कंपनी प्रबंधन के अधिकारियों को पत्र दिया है।

कंपनी प्रबंधन ने सिक्योरिटी गार्ड मुहैया कराने वाली कंपनी एक बार फिर बदल दी है। पुरानी कंपनी के सुरक्षा गार्डों ने रविवार की सुबह तक अपनी डयूटी की। इसके बाद नई कंपनी ने अपने सुरक्षा गार्ड यहां कंपनी की मांग के हिसाब से तैनात कर दिया। पिछली कंपनी के 74 गार्डाें की तरफ से उनका एक प्रतिनिधि मंडल शनिवार व रविवार को कंपनी प्रबंधन के अधिकारियों से मिला और पत्र देकर पुरानी कंपनी का भुगतान तब तक नहीं करने की मांग जब कि उन्हें उनकी जुलाई माह की डयूटी का भुगतान नहीं कर दिया जाता। उन्होंने फैक्ट्री प्रबंधन को यह भी बताया कि 26 जनवरी 21 को अवकाश दिवस में उनके द्वारा की गई डयूटी का भुगतान भी शासन द्वारा निर्धारित नियमों के तहत पुरानी कंपनी ने अभी तक नहीं किया है। उसे भी दिलाया जाए। उनके पत्र की पुष्टि करते हुए कंपनी के एचआर प्रबंधक बीसी शर्मा ने बताया कि छह अगस्त उनका भुगतान करने का ठेकेदार कंपनी से कहा गया है। फैक्टरी प्रबंधन के खिलाफ किसानों की नारेबाजी

गजरौला : बारिश के दौरान उमंग फैक्ट्री की बाउंड्री दीवार गिरने से समीप के खेतों में खड़ी फसल खराब हो गई। दीवार गिरने से फसल में कंपनी का पानी भी पहुंच गया है। किसान महीपाल आदि ने यही आरोप लगाते हुए रविवार को कंपनी प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। उन्होंने नुकसान की भरपाई करने की मांग की। बता दें कि यहां के किसान पूर्व में भी कंपनी के प्रदूषित पानी को लेकर अनेक बार प्रदर्शन कर चुके हैं। इधर कंपनी के एचआर प्रबंधक बीसी शर्मा ने बताया कि 27 जुलाई को बारिश के दौरान बाउंड्री की दीवार फसल में गिर गई थी। इसमें करीब 35-40 मीटर की फसल प्रभावित हुई है। उनसे बातचीत जारी है। कंपनी वाजिब मदद करने को तैयार है।

Edited By: Jagran