गजरौला: हाईवे पर रोडवेज बस की टक्कर लगने से ट्रैक्टर-ट्राली में सवार एक छात्र सहित दो लोगों की मौत हो गई। 15 अन्य लोग घायल हो गए। उन्हें उपचार के लिए सीएचसी में भर्ती कराया। गांव महेशरा निवासी सत्येंद्र सिंह के पुत्र सनी का शुक्रवार को जन्मदिन था। मंडी धनौरा थाना क्षेत्र के गांव शेरपुर वशी निवासी ससुराल पक्ष के 26 लोग ट्रैक्टर-ट्राली पर सवार होकर छोछक देने गए थे। उनमें टीकम का पुत्र 45 वर्षीय प्रकाश व कक्षा 12 का छात्र जयवीर सिंह का पुत्र विकास भी शामिल था। कार्यक्रम खत्म होने के बाद यह सब लोग शनिवार की सुबह करीब साढ़े नौ बजे वापस अपने गांव जा रहे थे। हाईवे पर गांव जलालपुर के पास अचानक सामने एक बाइक सवार युवक आ गया। उसे बचाने के प्रयास में ट्रैक्टर ट्राली अनियंत्रित हो गई। इस दौरान मुरादाबाद दिशा से आ रही रोडवेज बस ने ट्रैक्टर ट्राली में टक्कर मार दी। हादसे में विकास की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि प्रकाश, वेदपाल, आंचल, विनीता, विकास, सचिन सहित लगभग 15 लोग घायल हो गए। घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। यहां से प्रकाश की हालत नाजुक होने पर मेरठ के लिए रेफर कर दिया। मेरठ ले जाते समय रास्ते में प्रकाश ने भी दम तोड़ दिया। दो लोगों की मौत होने से कोहराम मच गया। रजबपुर पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

गजरौला : हाईवे पर हादसे का शिकार हुए प्रकाश की मौत के बाद परिजनों की चीत्कार से घर गूंज उठा। प्रकाश के पांच बच्चें हैं व पत्नी क्रांतिदेवी है। उसकी मौत के बाद इनके सिर से पालनहार का साया खत्म हो गया। उधर, विकास की मौत के बाद उसकी बुआ कौशल भी गश खाकर गिर गई। वहीं उसका दोस्त सचिन की भी हालत बिगड़ गई। उसे सीएचसी से हायर सेंटर रेफर कर दिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप